अख़बार की दुनिया मे बेबाक़ी का सबसे बड़ा कलेजा

【 RNI-HIN/2013/51580 】
【 RNI-MPHIN/2009/31101 】



Jansamparklife.com







1948 के शासन काल से प्रतिबंधित कट्टरवाद और हिंदुत्व आतंक से देश को पाखाना बनाने वाली RSS, बीजेपी के शीर्ष नेताओं को साथ ले भोपाल में करेगी बैठक

09 Sep 2017

no img

भोपाल। मध्यप्रदेश

आरएसएस (RSS) राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ जिसका मुख्य उद्देश्य ही भारत की जड़ों को नोच खा, कट्टरवाद के कीड़े परत दर परत बिछा मूल देश को खोखला करने की फिराक से गठित हुई थी वह आज केंद्र सरकार बीजेपी के साथ मिलकर अपना वर्चीस्प आने वाले 2019 विधानसभा चुनावों में बनाने के उद्देश्य से भोपाल में रणनीति तैयार करेगी। आरएसएस (RSS) का इतिहास ही प्रतिबन्ध से शुरू होकर आज भी आरएसएस (RSS) के मुख्य प्रचारक मोहन भागवत को केरल की सरकार द्वारा तिरंगा फिराने से प्रतिबंधित कर देना।

ब्रिटिश शासन के दौरान से आरएसएस पर प्रतिबंध लगा दिया गया था और फिर बार बार स्वतंत्रता के बाद भारत सरकार द्वारा RSS को कोई भी पार्टी ना घोषित कर प्रतिबन्ध लगाया गया। स्वतंत्रता के बाद पहली बार 1948 में जब एक पूर्व आरएसएस सदस्य के द्वारा पार्टी से मिलकर महात्मा गांधी की हत्या कर दी गयी थी तब सम्पूर्ण देश ने RSS का बहिष्कार कर पार्टी पर प्रतिबंध लगा दिया था, दूसरी बार इंदिरा गांधी के दौर के आपातकाल में (1975-77), 1992 में बाबरी मस्जिद के विध्वंस के समय और फिर RSS का इतिहास गन्दगी के दल दल में धसते चला गया। हाल ही में पार्टी के मुख्य प्रचारक मोहन भागवत को केरल के एक स्कूल में राष्ट्रीय तिरंगा फिराने से प्रतिबन्ध लगा दिया गया था।

मध्य प्रदेश समेत कई राज्यों में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं जिसके चलते चुनावों की तैयारियों पर मंथन के लिए अगले महीने राष्‍ट्रीय स्‍वयं सेवक संघ की बैठक भोपाल में होगी, इसमें खासतौर पर मध्‍य प्रदेश, गुजरात और हिमाचल में होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर बातचीत होगी, रणनीति बनेगी, जिसमें संघ और बीजेपी के शीर्ष नेता शिरकत करेंगे।

इसके लिए 13 से 15 अक्टूबर की तारीख तय की गई है। माना जा रहा है कि इस बैठक में मोहन भागवत, अमित शाह समेत कई पार्टी के मुख्य प्रचारक और नेता शिरकत करेंगे।

आमतौर पर विधानसभा या लोकसभा चुनाव के दौरान राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाता है। संघ का लंबा-चौड़ा नेटवर्क चुनावों के लिए विवादित मुद्दों को छेड़ देश मे असाम्प्रदायिक माहौल बनाता है। यही काम आने वाले विधानसभा चुनावों के लिए भी होना है।

मध्यप्रदेश


Latest Updates

No img

दूध डेरी संचालक के पास से देशी कट्टा ज़िंदा कारतूसों के जप्त किया!


No img

चुनाव के चलते सुबेभर में जप्त हुए 1 हज़ार गैर लाइसेंस धारी हथियार!!


No img

MP Government to hire veteran lawyers to urge HC for 27% reservation


No img

लॉकअप में धड़कता रहा आरोपी पुलिस सेकती रही आग!!!


No img

पिता से आबरू बचा इंदौर घर से भागी बालिका भोपाल पुलिस की पनाह में महफ़ूज़ !!


No img

DSP क्राइम ब्रांच आख़िर उगाई का हिस्सा किस अफ़सर को पहुचाता था?


No img

आशिकों को खुली धमकी: कल मोहब्बत दिवस पर शिवसेना तलाशेगी लैला मजनुओं


No img

Bhopal: Woman attacked with blade for protesting against whistling & lewd remarks, 118 stitches from face to neck


No img

3 girls drown in pit while taking bath in Bhopal’s Berasia area, all 3 dead


No img

This is how Bhopal grain trader saves his life from a gun fire in Nishatpura area


No img

MP: Accidental firing leads to 4 RPSF soldiers injured, one serious referred to private hospital


No img

*एसपी उत्तर के पालने में फिर गिरी सफ़लता!!*


No img

बारात से लौट रही कार को ट्रक ने मारी टक्कर, दुल्हे की दादी सहित तीन की मौत


No img

LIVE UPDATES: MP Legislative assembly adjourned for an hour


No img

क्यों कांग्रेसी बंद की गंद फ़ैलाने में सोला-आने हुए असफ़ल?