अख़बार की दुनिया मे बेबाक़ी का सबसे बड़ा कलेजा

【 RNI-HIN/2013/51580 】
【 RNI-MPHIN/2009/31101 】



Jansamparklife.com







ख़ौफ़ज़दा हुए कटारा के रहवासी मोहताज़ नज़र आ रही भोपाल पुलिस!!!

20 Feb 2019

no img


अनम इब्राहीम

*आधी रात को दर्ज़नों गुंडों की गैंग दहशत बरपाते रही और पुलिस सोते रही!!*

भोपाल: जब रात जवां होती है तो पुराना पटिया तोड़ भोपाल जागता रहता है और नया भोपाल रात को ग़नीमत समझ नींद की आगोश में गुम हो जाता है। लेकिन रात के बाज़ार से दूर नींद को गले लगाने वाले नए शहर के बाशिन्दे इन दिनों ख़ौफ़ के साए में रात गुज़ारते नज़र आ रहे हैं। थाना कटारा इलाक़े के बाग मुग़लिया ईडब्ल्यूएस आवासों में इन दिनों शांत रात में सोते हुए रहवासी रजाई के अंदर भी एक आँख खुली रख के नींद ले रहे हैं। वजह देर रात हंगामा बरतने वाली गुंडों की गैंग है जो देर रात अचानक मौहल्ले में आकर तमाम गाड़ियों के सीसे चटका कर ख़ौफ़ का समा बांधकर रवाना हो जाती है। कल रात भी अंधेरे को ग़नीमत समझ चार बाइक पर लगभग एक दर्जन अज्ञात गुंडों ने स्थानीय आवासों के सामने खड़े 15 वाहनों के शीशे चटका दिए। शीशों के चटकने से एक और जहां पूरा मोहल्ला सोते से जाग गया वहीं कटारा पुलिस शोरशराबे की आवाज़ों के बीच भी सोते रही। 20 से 25 वर्ष से निवास कर रहे क्षेत्रीय रहवासियों की माने तो ये हादसा इलाक़े में अशांति फ़ैलाकर माहौल ख़राब करने के लिए किया गया है। हादसे से पीड़ित मुक़ामी बाशिन्दे पुलिस की लापरवाही की दुहाई दे रहे हैं तो वही कुछ का कहना है कि हमने चंद महीनों पहले थाना कटारा के खुलने पर राहत महसूस की थी कि अब इलाक़ा और भी सुरक्षा के घेरे में घिर जाएगा। लेकिन थाना खुलने के बाद दर्ज़नों असामाजिक तत्व देर रात ख़ौफ़ बनकर सोसायटी में तांडव कर रहे हैं और पुलिस लापरवाही की लाड़ टपकाते हुए गहरी नींद सो रही है।

बहरहाल जो भी हो DIG इरशाद को वक़्त रहते शहर को सुरक्षा का अमलीजामा पहनाने का फ़न सिख लेना चाहिए वरना बारूद के ढेर पर बसे इस शहर को खाक बनने में वक़्त नही लगेगा। जब से DIG धर्मेंद्र चौधरी का तबादला हुआ है तब से लगातार शहर भर के भीतर हादसों में इज़ाफ़ा होता चला जा रहा है। नवेले DIG को मुख्यमंत्री की हिदायतों को अमल में लाना चाहिए और साथ ही अपराधों पर लग़ाम लगाने के लिए गृहमंत्री बाला बच्चन की विचारधाराओं की धार में बहना चाहिए। इरशाद के आने के बाद से लगातार मैदानी पुलिस धीरे—धीरे लापरवाह होते नज़र आ रही है और अपराधों में इज़ाफ़ा भी होता चला जा रहा है। कभी थाना टीले में नाबालिग़ के सामूहिक बलात्कार में मुक़म्मल गिरफ़्तारी नहीं हो पा रही तो कभी अपराधी ही पुलिसिया चोला ओढ़कर वारदातों को अंज़ाम दें रहे हैं तो कभी 420 जैसे अज़ामती मामलों में FIR दर्ज़ होने के बाद भी अपराधियों को देश से भागने का मौक़ा दिया जा रहा है। जल्द ही जनसम्पर्कlife की ख़बरों में नोचिये शहर की सुरक्षा के रखवालों के काले कारमानों के काले मास की बोटियां।

तब तक के लिए खुद पर भरोसा रख के चौकन्ना रहिए सुरक्षित रहिए और आपस में एक दूसरे को जागरूक भी करते रहिए!



मध्यप्रदेश पुलिस मुख्यालय


Latest Updates

No img

53 year old bank employee looted on gun point in Capital Bhopal


No img

दूध डेरी संचालक के पास से देशी कट्टा ज़िंदा कारतूसों के जप्त किया!


No img

नाकाम क्राइम ब्रांच: बुजुर्ग बिचौलि महिला को पुलिस ने किया गिरफ़्तार, असली आरोपी तक पहुंचने में असफ़ल


No img

मप्र: जमीन बेचने के विवाद पर पति ने पत्नी को कुल्हाड़ी से मारा, फिर खुद ने लगा ली फांसी


No img

पार्टी के पापा से मिलकर आए शिवराज!!


No img

Car rams into people during Durga idol immersion procession in Bhopal's Bajaria area, sparks controversy after Chhattisgarh incident


No img

GMC के जूनियर पियक्कड़ डॉक्टरों ने भोपाल पुलिस को छक्कों की तरह किया हाय हाय!!


No img

Uganda’s cyber thug sentenced to 5 yrs in prison by Bhopal Court, know what is ATM skimming


No img

4 lakh rupees each assistance to the dead of Gwalior accident, 2 suspended


No img

Famous poet faces FIR in MP’s Guna over objectionable remarks on Valmiki


No img

क्या आप के मौहल्ले में भी है चकला???


No img

विपक्ष ने उठाई विधायक निधि बढ़ाकर 5 करोड़ करने की मांग!!


No img

3 deaths recorded in the capital for 3 consecutive days due to Corona Virus


No img

More than a dozen fraud cases reported in Bhopal, city becomes haven for tricksters


No img

बढ़ती मंहगाई को देख चोरों ने के हुए हौसले बुलंद ताला तोड़ मशरूका ले उड़े!!