अख़बार की दुनिया मे बेबाक़ी का सबसे बड़ा कलेजा

【 RNI-HIN/2013/51580 】
【 RNI-MPHIN/2009/31101 】



Jansamparklife.com







शिवराज ने कमलनाथ को कहा-खेत की मूली, जीतू पटवारी बोले-मान मर्यादा भूले शिवराज

07 Dec 2019

no img

भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सागर में गिरफ्तारी देने गए थे। इस दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री पर तंज कसते हुए कहा था कि ‘सुन लो कमलनाथ, हम इंदिरा जी से नहीं डरे, इमरजेंसी के समय जेलों में रहे, तुम किस खेत की मूली हो।’ उनके इस बयान का कांग्रेस विरोध कर रही है। इसी को लेकर कमलनाथ कैबिनेट के मंत्री जीतू पटवारी ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि सत्ता से बेदखल होने की निराशा शिवराज के चेहरे पर दिखाई दे रही है, वे इस बात को भुना नहीं पा रहे कि वे अब मुख्यमंत्री नहीं हैं। वे जनता और अपनी पार्टी में अप्रासंगिक भी हो गये हैं, शायद इसीलिए अब उनको भाषा की मर्यादा का भान भी नहीं रहता। 

मंत्री पटवारी ने कहा कि मुख्यमंत्री के लिए ‘खेत की मूली’ जैसी अभद्र भाषा का प्रयोग करना बताता है कि उनकी सत्ता का स्तर क्या हो गया है। उन्होंने कहा कि जब शिवराज सत्ता में थे तो फसलों के दाम मांगने पर अन्नदाता किसानों के सीने में गोलियां उतार कर उन्हें मौत के घाट उतार दिया और जब सत्ता चली गई तो किसानों से प्रतिशोध की आग में आप जल रहे हैं और लगातार उनकी आजीविका पर आक्रमण कर रहे हैं। उन्होंने शिवराज सिंह चौहान से सवाल किया कि प्रदेश की जनता के लिए अगर आप इतने ही सच्चे हैं तो अभी धरना प्रदर्शन करिए, अपनी केंद्र सरकार के खिलाफ और जिन 28 सांसदों को प्रदेश ने जिताया है वह भी अपनी सरकार से प्रदेश को होने वाले सौतेले व्यवहार पर चर्चा क्यों नहीं करते। 

उन्होंने कहा कि शिवराज को अन्नदाता किसानों से बदला लेने की अपेक्षा मुख्यमंत्री कमलनाथ से सीख लेना चाहिए, उन्होंने हमेशा विपक्षीय दल होने के बावजूद केंद्र में मंत्री रहते हुए मप्र की अधोसंरचना विकास, अन्नदाता किसानों एवं आमजन की तरक्की के लिए कार्य किया और इतिहास साक्षी है और शिवराज खुद उनकी प्रशंसा करते हुए नहीं थकते थे। यदि आंदोलन करना है तो जनता के हित में करो, किसानों के हित में करो, केंद्र की भाजपा सरकार के सम्मुख धरना और गिरफ्तारी दीजिए और केंद्र सरकार से मध्यप्रदेश के किसानों के लिए न्याय की मांग कीजिए। इस धरना और गिरफ्तारी में आपका साथ देने के लिए हम तैयार हैं। लेकिन जनता और किसानों को गुमराह करना बहुत ही गलत है। 

मध्यप्रदेश किसान मुख्यमंत्री मंत्री विधायक राज्य


Latest Updates

No img

EOW makes clerk Keswani's wife too accused in corruption case, most of the assets in Naina Keswani's name


No img

Siblings drowned in Bhopal mining pit, both dead, mother serious


No img

MP Haj Committee gets a new chairman, 12 members included in the committee along with MLA Arif Masood


No img

प्रमोशन के लिए आदिवासियों को नक्सलवादी बनाने वाले एसपी का आतंकी क़िरदार हुआ सार्वजनिक!!!!


No img

नाबालिग़ को बहला फुसलाकर किया अगवा! परिवार गम के साए में नम!


No img

Bhopal AIIMS blood bank matter raised in Parliament, 10 yr old girl died due to transfusion of HIV+ve blood


No img

MP: Action against 5 policemen including T.I. after Custodial death of tribal youth


No img

सीएम योगी के आने पर ही परिजन करेंगे कमलेश तिवारी का अंतिम संस्कार, पत्नी बोली-कर लूंगी आत्मदाह


No img

Fake Kinnar beaten up by Real Kinnar in Bhopal, let off after apologizing


No img

मन्दिर से करोड़ो का दान लूटने की वारदात से मुख्यमंत्री अफ़सरो से ख़फ़ा 


No img

President Droupadi Murmu to inaugurate the seventh International Dharma-Dhamma Conference in capital Bhopal today


No img

The water-logged streets of Ujjain, people express anger on administration


No img

Arvind Kejriwal and Bhagwant Mann to Address AAP's Mega Rally in Bhopal, Eyeing to Break BJP-Congress Dominance in MP


No img

झाबुआ विस उपचुनाव: वोटिंग जारी, सुबह से दिख रही मतदाताओं की भीड़


No img

मप्र: जंगल में मिली महिला और बच्ची की जली हुई लाश