अख़बार की दुनिया मे बेबाक़ी का सबसे बड़ा कलेजा

【 RNI-HIN/2013/51580 】
【 RNI-MPHIN/2009/31101 】



Jansamparklife.com







शिवराज ने कमलनाथ को कहा-खेत की मूली, जीतू पटवारी बोले-मान मर्यादा भूले शिवराज

07 Dec 2019

no img

भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सागर में गिरफ्तारी देने गए थे। इस दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री पर तंज कसते हुए कहा था कि ‘सुन लो कमलनाथ, हम इंदिरा जी से नहीं डरे, इमरजेंसी के समय जेलों में रहे, तुम किस खेत की मूली हो।’ उनके इस बयान का कांग्रेस विरोध कर रही है। इसी को लेकर कमलनाथ कैबिनेट के मंत्री जीतू पटवारी ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि सत्ता से बेदखल होने की निराशा शिवराज के चेहरे पर दिखाई दे रही है, वे इस बात को भुना नहीं पा रहे कि वे अब मुख्यमंत्री नहीं हैं। वे जनता और अपनी पार्टी में अप्रासंगिक भी हो गये हैं, शायद इसीलिए अब उनको भाषा की मर्यादा का भान भी नहीं रहता। 

मंत्री पटवारी ने कहा कि मुख्यमंत्री के लिए ‘खेत की मूली’ जैसी अभद्र भाषा का प्रयोग करना बताता है कि उनकी सत्ता का स्तर क्या हो गया है। उन्होंने कहा कि जब शिवराज सत्ता में थे तो फसलों के दाम मांगने पर अन्नदाता किसानों के सीने में गोलियां उतार कर उन्हें मौत के घाट उतार दिया और जब सत्ता चली गई तो किसानों से प्रतिशोध की आग में आप जल रहे हैं और लगातार उनकी आजीविका पर आक्रमण कर रहे हैं। उन्होंने शिवराज सिंह चौहान से सवाल किया कि प्रदेश की जनता के लिए अगर आप इतने ही सच्चे हैं तो अभी धरना प्रदर्शन करिए, अपनी केंद्र सरकार के खिलाफ और जिन 28 सांसदों को प्रदेश ने जिताया है वह भी अपनी सरकार से प्रदेश को होने वाले सौतेले व्यवहार पर चर्चा क्यों नहीं करते। 

उन्होंने कहा कि शिवराज को अन्नदाता किसानों से बदला लेने की अपेक्षा मुख्यमंत्री कमलनाथ से सीख लेना चाहिए, उन्होंने हमेशा विपक्षीय दल होने के बावजूद केंद्र में मंत्री रहते हुए मप्र की अधोसंरचना विकास, अन्नदाता किसानों एवं आमजन की तरक्की के लिए कार्य किया और इतिहास साक्षी है और शिवराज खुद उनकी प्रशंसा करते हुए नहीं थकते थे। यदि आंदोलन करना है तो जनता के हित में करो, किसानों के हित में करो, केंद्र की भाजपा सरकार के सम्मुख धरना और गिरफ्तारी दीजिए और केंद्र सरकार से मध्यप्रदेश के किसानों के लिए न्याय की मांग कीजिए। इस धरना और गिरफ्तारी में आपका साथ देने के लिए हम तैयार हैं। लेकिन जनता और किसानों को गुमराह करना बहुत ही गलत है। 

मध्यप्रदेश किसान मुख्यमंत्री मंत्री विधायक राज्य


Latest Updates

No img

MBBS female student commits suicide in Bhopal’s AIIMS campus


No img

बिजली के बिलों की माला पहनने वाली बुजुर्ग महिला ने खोली भाजपा की पोल


No img

Thackeray hopes to get together with BJP again, laughs after giving statement during the assembly in


No img

PM Modi to arrive in Bhopal on 15th November, city beautification being done on full roll


No img

विधानसभा बजट सत्र: विधायक "मंदिरों वाली सरकार का दिमनी-अंबाह मंदिर पर ध्यान क्यों नहीं?"


No img

Indore Nigam worker millionaire , EOW raides clerk’s house


No img

Hard hitting realities in Neemuch Bhil youth death row, prior police only registered an accident case


No img

JNU की छात्रा नेता आफरीन फ़ातिमा का घर भी हुआ नफ़रत का शिकार बुलडोज़र से रौंदा जाएगा


No img

एक माशूका के दो आशिक़: मोहब्बत में मारी छुरी, एक अस्पताल तो दूजा फ़रार!!


No img

MP: Full dress rehearsal for 15th Aug celebrations held at Motilal Nehru Stadium in the presence of DGP MP, 9 units to take part


No img

उच्च न्यायालय ने सबूतों से छेड़छाड़ के मामले में ADG, SP व सिविल सर्जन को तत्काल तबादले का किया फ़रमान जारी!!


No img

Sad by family member's demise due to lack of injection, BJP leader calls CM Shivraj 'Nikamma'


No img

JMB terrorists arrested from Bhopal were on police radar since March, objectionable material found with them: Narottam


No img

MP home department transfers Mamtesh Mali from ATS with immediate effect


No img

Nandu Bhaiya - BJP MP from Khandwa dies, CM Shivraj expresses grief