अख़बार की दुनिया मे बेबाक़ी का सबसे बड़ा कलेजा

【 RNI-HIN/2013/51580 】
【 RNI-MPHIN/2009/31101 】



Jansamparklife.com







शिवराज ने कमलनाथ को कहा-खेत की मूली, जीतू पटवारी बोले-मान मर्यादा भूले शिवराज

07 Dec 2019

no img

भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सागर में गिरफ्तारी देने गए थे। इस दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री पर तंज कसते हुए कहा था कि ‘सुन लो कमलनाथ, हम इंदिरा जी से नहीं डरे, इमरजेंसी के समय जेलों में रहे, तुम किस खेत की मूली हो।’ उनके इस बयान का कांग्रेस विरोध कर रही है। इसी को लेकर कमलनाथ कैबिनेट के मंत्री जीतू पटवारी ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि सत्ता से बेदखल होने की निराशा शिवराज के चेहरे पर दिखाई दे रही है, वे इस बात को भुना नहीं पा रहे कि वे अब मुख्यमंत्री नहीं हैं। वे जनता और अपनी पार्टी में अप्रासंगिक भी हो गये हैं, शायद इसीलिए अब उनको भाषा की मर्यादा का भान भी नहीं रहता। 

मंत्री पटवारी ने कहा कि मुख्यमंत्री के लिए ‘खेत की मूली’ जैसी अभद्र भाषा का प्रयोग करना बताता है कि उनकी सत्ता का स्तर क्या हो गया है। उन्होंने कहा कि जब शिवराज सत्ता में थे तो फसलों के दाम मांगने पर अन्नदाता किसानों के सीने में गोलियां उतार कर उन्हें मौत के घाट उतार दिया और जब सत्ता चली गई तो किसानों से प्रतिशोध की आग में आप जल रहे हैं और लगातार उनकी आजीविका पर आक्रमण कर रहे हैं। उन्होंने शिवराज सिंह चौहान से सवाल किया कि प्रदेश की जनता के लिए अगर आप इतने ही सच्चे हैं तो अभी धरना प्रदर्शन करिए, अपनी केंद्र सरकार के खिलाफ और जिन 28 सांसदों को प्रदेश ने जिताया है वह भी अपनी सरकार से प्रदेश को होने वाले सौतेले व्यवहार पर चर्चा क्यों नहीं करते। 

उन्होंने कहा कि शिवराज को अन्नदाता किसानों से बदला लेने की अपेक्षा मुख्यमंत्री कमलनाथ से सीख लेना चाहिए, उन्होंने हमेशा विपक्षीय दल होने के बावजूद केंद्र में मंत्री रहते हुए मप्र की अधोसंरचना विकास, अन्नदाता किसानों एवं आमजन की तरक्की के लिए कार्य किया और इतिहास साक्षी है और शिवराज खुद उनकी प्रशंसा करते हुए नहीं थकते थे। यदि आंदोलन करना है तो जनता के हित में करो, किसानों के हित में करो, केंद्र की भाजपा सरकार के सम्मुख धरना और गिरफ्तारी दीजिए और केंद्र सरकार से मध्यप्रदेश के किसानों के लिए न्याय की मांग कीजिए। इस धरना और गिरफ्तारी में आपका साथ देने के लिए हम तैयार हैं। लेकिन जनता और किसानों को गुमराह करना बहुत ही गलत है। 

मध्यप्रदेश किसान मुख्यमंत्री मंत्री विधायक राज्य


Latest Updates

No img

पीसी शर्मा ने सरकार की गिनाईं उपलब्धियां


No img

भोपाल: लूट की चैन खरीदने वाले ज्वेलर्स सहित दो बदमाश गिरफ्तार


No img

मप्र: हनीट्रैप में फंसे 6 दिग्गज नेता, 4 IPS, 5 IAS समेत पूर्व मंत्रियों के नाम आए सामने


No img

शराब के सौदागरों का ख़ूनी खेल: दिनदहाड़े ताबड़तोड़ फायरिंग कर दहला गया शहर!


No img

पिता से आबरू बचा इंदौर घर से भागी बालिका भोपाल पुलिस की पनाह में महफ़ूज़ !!


No img

PS गुनगा: नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म, प्रेग्नेंट होने पर हुआ खुलासा


No img

मप्र: जमीन बेचने के विवाद पर पति ने पत्नी को कुल्हाड़ी से मारा, फिर खुद ने लगा ली फांसी


No img

शादी का झांसा देकर आरक्षक ने किया दुष्कर्म, मिसरोद थाने में दुष्कर्म और SC/ST के तहत मामला दर्ज


No img

टीआई जितेंद्र पाठक को सालगिराह का सलामती भरा सलाम


No img

Ps MP नगर: सलाखों के पीछे जाने से पहले बेवफ़ा आशिक़ हुआ छू!!!!


No img

इंदौर पुलिस के हाथ लगी महिला क्रिकेटर्स पर दाव लगाने वाली ऑनलाइन सट्टेबाजो कि गैंग!!!


No img

दिन दहाड़े गुज़री क़त्ल की वारदात, भतीजे ने चाचा को उतारा मौत के घाट!!!


No img

हड़तालकर्ताओं को अब तक नही मिली राहत: त्योहारों पर भी रहम नही आया ट्रांसपोर्ट संचालको पर!!


No img

भाजपा प्रदेश दफ़्तर में युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष की प्रेसवार्ता क्यों हुई स्थगित ?


No img

साध्वी 'भगवा शेरनी' हैं तो उन्हें संसदीय दल से क्यों हटाया: पीसी शर्मा