अख़बार की दुनिया मे बेबाक़ी का सबसे बड़ा कलेजा

【 RNI-HIN/2013/51580 】
【 RNI-MPHIN/2009/31101 】



Jansamparklife.com







1948 के शासन काल से प्रतिबंधित कट्टरवाद और हिंदुत्व आतंक से देश को पाखाना बनाने वाली RSS, बीजेपी के शीर्ष नेताओं को साथ ले भोपाल में करेगी बैठक

09 Sep 2017

no img

भोपाल। मध्यप्रदेश

आरएसएस (RSS) राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ जिसका मुख्य उद्देश्य ही भारत की जड़ों को नोच खा, कट्टरवाद के कीड़े परत दर परत बिछा मूल देश को खोखला करने की फिराक से गठित हुई थी वह आज केंद्र सरकार बीजेपी के साथ मिलकर अपना वर्चीस्प आने वाले 2019 विधानसभा चुनावों में बनाने के उद्देश्य से भोपाल में रणनीति तैयार करेगी। आरएसएस (RSS) का इतिहास ही प्रतिबन्ध से शुरू होकर आज भी आरएसएस (RSS) के मुख्य प्रचारक मोहन भागवत को केरल की सरकार द्वारा तिरंगा फिराने से प्रतिबंधित कर देना।

ब्रिटिश शासन के दौरान से आरएसएस पर प्रतिबंध लगा दिया गया था और फिर बार बार स्वतंत्रता के बाद भारत सरकार द्वारा RSS को कोई भी पार्टी ना घोषित कर प्रतिबन्ध लगाया गया। स्वतंत्रता के बाद पहली बार 1948 में जब एक पूर्व आरएसएस सदस्य के द्वारा पार्टी से मिलकर महात्मा गांधी की हत्या कर दी गयी थी तब सम्पूर्ण देश ने RSS का बहिष्कार कर पार्टी पर प्रतिबंध लगा दिया था, दूसरी बार इंदिरा गांधी के दौर के आपातकाल में (1975-77), 1992 में बाबरी मस्जिद के विध्वंस के समय और फिर RSS का इतिहास गन्दगी के दल दल में धसते चला गया। हाल ही में पार्टी के मुख्य प्रचारक मोहन भागवत को केरल के एक स्कूल में राष्ट्रीय तिरंगा फिराने से प्रतिबन्ध लगा दिया गया था।

मध्य प्रदेश समेत कई राज्यों में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं जिसके चलते चुनावों की तैयारियों पर मंथन के लिए अगले महीने राष्‍ट्रीय स्‍वयं सेवक संघ की बैठक भोपाल में होगी, इसमें खासतौर पर मध्‍य प्रदेश, गुजरात और हिमाचल में होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर बातचीत होगी, रणनीति बनेगी, जिसमें संघ और बीजेपी के शीर्ष नेता शिरकत करेंगे।

इसके लिए 13 से 15 अक्टूबर की तारीख तय की गई है। माना जा रहा है कि इस बैठक में मोहन भागवत, अमित शाह समेत कई पार्टी के मुख्य प्रचारक और नेता शिरकत करेंगे।

आमतौर पर विधानसभा या लोकसभा चुनाव के दौरान राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाता है। संघ का लंबा-चौड़ा नेटवर्क चुनावों के लिए विवादित मुद्दों को छेड़ देश मे असाम्प्रदायिक माहौल बनाता है। यही काम आने वाले विधानसभा चुनावों के लिए भी होना है।

मध्यप्रदेश


Latest Updates

No img

कमलनाथ के बाद अब ग्रह मंत्री नरोत्तम ने जगाई पुलिस में साप्ताहिक अवकाश की आस!!


No img

भाजपा का नाम लिए बिना आरिफ अकील बोले, हिंदुस्तान किसी के बाप का नहीं है


No img

भोपाल: बैंक मैने जकर के ठिकानों पर चला लोकायुक्त का डंडा, करोड़ों की सम्पत्ति का खुलासा


No img

PS गांधीनगर: तेलंगाना से भोपाल पढ़ाई करने आए छात्र ने फांसी लगाकर की खुदकुशी


No img

एक दो.. बड़ते-बड़ते बर्थडे पर दोस्तों की फ़ौज तैयार हुई जितेंद्र पाठक के जन्मदिन पर!!!


No img

पूर्व विधायक सुरेंद्र नाथ सिंह की बेटी हुई लापता!!!


No img

मध्यप्रदेश पुलिस मुख्यालय का आदेश: एक ही थाने में 4-5 वर्ष से अधिक नहीं रह सकेगा कोई कर्मचारी


No img

थाना बैरसिया पुलिस अपहरण कर चार दिनों से युवक को बंधक बना कर रही हैं धुक्कस पिटाई!!!


No img

पीसी शर्मा ने सरकार की गिनाईं उपलब्धियां


No img

इंदौर टेस्ट भारत के नाम, बांग्लादेश को पारी और 130 रनों से हराया


No img

ननि और नपा चुनाव में कांग्रेस ही करेगी जीत दर्ज: इमरती देवी


No img

आईफा अवार्ड के आयोजन से मप्र को मिलेगी दुनिया में नई पहचान


No img

झाबुआ में उपचुनाव में ज़हर घोलेगी नाथ की मौज़ूदगी या गुटबाज़ी से ही चल जाएगा काम??


No img

सब पर भारी निगम दफ़्तर का अतिक्रमण अधिकारी, बताओ पुलिस में है इस कि किससे यारी???


No img

कम्प्यूटर बाबा ने साध्वी को कहा रावण…शिवराज को ठग, दिग्गी राजा के समर्थन में करेंगे 3 दिन रोड शो