आस्था या अंधविश्वास? मुराद पूरी हुई तो जीभ काटकर देवी मां के चरणों में चढाई

जयपुर। उत्तर प्रदेश में अभी भी अंधविश्वास लोगों के सिर चढ़कर बोल रहा है। अन्धविश्वासी लोग अपनी स्वतंत्रता नष्ट कर लेते हैं। वो अपनी मर्जी से कोई निर्णय नहीं ले सकते क्योंकि उन्होंने अपने दिमाग को अन्धविश्वास के जेल में बंद कर रखा है। जिसके चलते कई बार ऐसे काम कर देते है। जिसकी वजह से उनकी जिंदगी पर बन आती है। आज भी हमारे समाज मे अंधविश्वास ने काफी जडे जमा रखी है। आज आपको अंधविश्वास का एक ऐसा मामला बताने जा रहे है जहां एक महिला ने मुराद…