PS बागसेवनिया: प्रेम प्रसंग में रूकावट बन रहा था पति, पत्नी ने कहा हाथ पैर तोड़ दोे…प्रेमी ने मरवा डाला

भोपाल। राजधानी भोपाल के बागसेेवनिया इलाके में कल सोमवार कोे एक युवक की लाश मिली थी। लाश को देखकर हत्या का अंदेशा लगाया जा रहा था। पुलिस ने इस मामले में हत्या का खुलासा कर दिया है। आरोपी मृतक की पत्नी निकली। जिसने अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति को मौत के घाट उतार दिया। दरअसल मृतक पत्नी के प्रेमप्रसंग में रूकावट बन रहा था जिसके चलते उसे हमेशा के लिए रास्ते से हटा दिया गया। पुलिस नेे पत्नी उसके आशिक सहित 6 लोगों को हिरासत में ले लिया है।

jansamparklife.com को मिली जानकारी के अनुसार, 30 वर्षीय विमल मेहरा पत्नी सोनू मेहरा और बेटी के साथ पिपलिया पेंदे खां में रहता था। वह मूलत: विदिशा का निवासी था और भोपाल में ड्राइवरी करता था। महिला का दिनेश नाम के युवक के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। इसकी भनक विमल को लगी तो वह पत्नी के साथ विवाद और मारपीट करने लगा। तंग आकर महिला ने दिनेश से कहा कि विमल को सबक सिखा दो। रविवार रात को दिनेश उसके घर आया और शराब पिलाने का कहकर उसे अपने साथ ले गया जहां पहले तो उसे शराब पिलाई और फिर उसने अपने तीन साथियों से कहा कि इसके हाथ पैर तोड़ दो लेकिन उन लोगों को जब डंडा नहीं मिला तो उन्होंने चाकू से उसके सीने पर वार कर दिए और वहां से भाग गए।

पुलिस को गुमराह करने के लिए महिला थाने पहुंची और पति की गुमशुदगी की शिकायत दर्ज करवाई। पुलिस को दिनेश की लाश कल सुोमवार सुबह बागमुगालिया स्थित देशी कलारी के पास पड़ी मिली। कुछ लोगों ने बताया कि विमल को आखिरी बार दिनेश के साथ देखा गया था। पुलिस को दिनेश और महिला के प्रेम प्रसंग की भी बात पता चली। जब पुलिस ने दिनेश और मृतक की पत्नी से पूछताछ की तो वह दोनो बार—बार बयान बदलने लगे। पुलिस को शक हुआ और जब सख्ती से पूछताछ की तो दोनो टूट गए और अपना जुर्म कबूल कर लिया।

महिला ने बताया कि विमल के एक विधवा महिला से अवैध संबंध थे। वह विमल को उस महिला के पास जाने से रोकती थी, लेकिन विमल उसकी बात नहीं मानता था। साथ ही टोकने पर उसे पीटता भी था। जब विमल उससे दूर रहने लगा तो दिनेश से उसकी नजदीकियां बढ़ गईं और नौबत प्रेम प्रसंग पर पहुंच गई। विमल को यह बात पता चली तो वह उसे प्रताड़ित करने लगा। तंग आकर उसने दिनेश से कहा किस विमल के हाथ पैर तुड़वा दो। दिनेश ने अपने प्लान में अपने दो नाबालिग साथियों को शामिल किया और विमल को शराब पिलाने के बहाने बुला लाए। जहां दिनेश के दोस्तों से कहा कि इसके हाथ पैर तोड़ देना। लेकिन जब नाबालिगों को कुछ नहीं मिला तो उन्होंने उसके सीने मेंं चाकू से हमला कर दिया जिससे उसकी मौत हो गई।

Related posts