PS बागसेवनिया: पानी को लेकर दो पक्षों में विवाद, बचाव करने आए युवक को मारी छुरी, मौत

भोपाल। होली के मौके पर सुरक्षा के तमाम दावे करने वाली भोपाल पुलिस के दावे फेल नजर आए और शहर में एक ऐसी घटना घट गई जिसे सुनकर आपको गुस्सा आ जाएगा। दरअसल होली पर पानी को लेकर दो पड़ोसियों में विवाद हो गया। विवाद इतना बड़ा की एक पक्ष के लोगों ने दूसरे पर के व्यक्ति पर चाकू से हमला कर दिया जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। बागसेवनिया थाना पुलिस ने दो लोगों को हिरासत में ले लिया है। पुलिस ने मृग कायम कर शव को पीएम के लिए भेज दिया है और कार्रवाई शुरू कर दी है।

jansamparklife.com को मिली जानकारी के अनुसार, मुकेश मालवीय परिवार के साथ दीक्षा नगर बागमुगलिया में किराए से रहता था। कुष्णा मालवीय उसी का रिश्तेदार है और वह भी उसी घर में कमरा किराए से लेकर रहता है। कुष्णा की पत्नी और घर के सामने रहने वाली मंजू के बीच बीते बुधवार को पानी भरने को लेकर विवाद हुआ था। जिसके बाद से ही दोनों परिवारों में तनाव का माहौल था।

कल होली के दिन कृष्णा की पत्नी अपना घर धो रही थी। घर का पानी मंजू के घर में चला गया था। जिस पर मंजू बौखला गई और लड़ाई करने आ गई। इस बीच दोनों में झूमाझटकी भी हुई। लोगों ने समझा बुझाकर दोनों को शांत कर दिया। लेकिन थोड़ी देर बाद मंजू ने अपने भांजे आशी और उसके साथियों को बुला लिया। वह सब कृष्णा के घर पहुंचे और झगड़ा करने लगे। झगड़ा होते देख मुकेश भी बीच बचाव करने कृष्णा के घर चला गया। जहां आशीष ने अपने पास रखी छुरी निकाली और मुकेश के पेट में मार दी। जिससे मुकेश की आंते बाहर आ गईं और उसने उसी वक्त दम तोड़ दिया।

इसके बाद परिजन मुकेश को अस्पताल लेकर गए जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस की सूचना पर बागसेवनिया थाना पुलिस ने मृग कायम कर शव को पीएम के लिए भेजा और शिकायत पर मंजू व उसके भांजे आशीष को हिरासत में ले लिया है। हैरत की बात यह है कि इलाके में इतनी बड़ी वारदात हो गई लेकिन पुलिस को कोई खबर ही नहीं हुई। हत्या से पहले भी कई घंटों तक विवाद चलता रहा लेकिन पुलिस को भनक तक नहीं लगी। यदि वक्त रहते पुलिस पहुंच जाती तो मुकेश की जान बच जाती।

Related posts