PS तलैया: जेल से छूटे बदमाश ने रोजा इफ्तार में जा रहे युवक के सीने में दागी गोली, मौत

भोपाल। पुराने भोपाल में कल एक दिल दहला देने वाला वाक्या सामने आया। जहां रोजा इफ्तार में जा रहे दिव्यांग युवक को एक नामी बदमाश ने गोली मार दी। इसके बाद आरोपी उसे चिरायु अस्पताल के गेट पर फेंककर फरार हो गए। अस्पताल में इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया। गोलीकांड के बाद रात को पुलिस ने दोनों आरोपियों को हिरासत में ले लिया है। बता दें की आरोपी 4 दिन पहले ही जेल से रिहा हुआ है। उस पर छेड़छाड़, दुष्कर्म सहित राजधानी के अलग अलग थानों में कई संगीन अपराध दर्ज हैं।

jansamparklife.com को मिली जानकारी के अनुसार, 22 वर्षीय मोहम्मद कासिम बुधवारा इलाके में रहता है। वह पैर ​से दिव्यांग हैं और इकबाल मैदान के पास दुकान में डेंटिंग पेंटिंग का काम करता है। कल शुक्रवार को वह अपने एक साथी के साथ रोजा इफ्तार करने टोल वाली मस्जिद में जा रहा था। तभी उसे वहां जेल से चार दिन पहले रिहा हुआ उमर मिला। उमर के साथ उसका एक साथी फारूक भी था। उमर उससे पैसे के लेन देने को लेकर विवाद कर करने लगा। इसी दौरान उमर ने अपने पास रखी बंदूक से कासिम के सीने में गोली दाग दी। उसके बाद दोनों उसे स्कूटर पर बैठाकर चिरायू अस्पताल के बाहर फेंककर फरार हो गए। डॉक्टरों ने उसका इलाज शुरू किया। सूचना पर डीआईजी इरशाद वली भी अस्पताल पहुंच गए। युवक बयान दे पाता उससे पहले ही उसकी सांसें थम गईं।

नामी बदमाश है आरोपी उमर

बता दें की आरोपी उमर नामी बदमाश है। उसके खिलाफ शहर के कई थानों में छेड़छाड़, दुष्कर्म सहित कई संगीन मामले दर्ज हैं। जांच में यह बात सामने आई है कि कुछ दिन पहले उमर ने अपनी गाड़ी में कासिम से डेंटिंग का काम करवाया था। लेकिन कासिम ने काम ठीक से नहीं किया था जिसके चलते उमर उससे अपने पैसे मांग रहा था और कासिम देने के लिए तैयार नहीं था। वारदात को अंजाम देने के बाद उमर और फारूख उर्फ छोटू एक सीसीटीवी फुटेज में कैद हो गए हैं। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने वारदात के कुछ घंटे बाद ही दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

Related posts