PS गुनगा: पत्नी नहीं आई मायके से तो पति ने दोनों बच्चों के साथ गटका जहर

भोपाल। पति अपनी पत्नी को लेेने मायके पहुंचा। जहां पत्नी ने एक दिन बाद आने का कहा। पत्नी की यह बात सुनकर पति आगबबूला हो गया और दोनों बेटों को लेकर घर आ गया। पति का गुस्सा यहीं शांत नहीं हुआ उसने फ्रूटी में जहर​ मिलाया और दोनों बच्चों को पिला दिया। इसके बाद खुद ने भी जहर गटक लिया। इसके बाद उसने ससुराल में फोन करके बताया कि उसने बच्चों सहित जहर पी लिया। डायल 100 ने तुरंत पहुंचकर तीनों को अस्पताल में भर्ती कराया। जहां तीनों की हालत खतरे से बाहर है। पुलिस ने आरोपी पर हत्या के प्रयास और आत्महत्या करने का मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

jansamparklife.com को मिली जानकारी के अनुसार, 38 वर्षीय करण सिंह लोधी कस्बा गुनगा में पत्नी प्रीति लोधी और दो बेटे मोहित और कार्तिक के साथ रहता है। करण मूल रूप से सलामतपुर जिला रायसेन का रहने वाला है। वह गुजरात की एक फेक्ट्री में काम करता है। करण शराब पीने का आदि है। कुछ दिन पूर्व उसके ससुर का निधन हो गया था। जिसके चलते प्रीति पहली होली मनाने अपने दोनों बेटों को लेकर गुनगा स्थित मायके चली गई थी। शुक्रवार को करण ससुराल पहुंचा और प्रीति से घर चलने की बात करने लगा।

प्रीति ने कहा कि भाईदूज है कल चलेंगे। जिस पर करण गुस्से में आ गया और दोनों के बीच मामूली विवाद हो गया। इसके बाद करण अपने दोनों बेटों को लेकर घर आ गया। यहां उसने फ्रूटी में जहर मिलाकर दोनों बेटों को पिला दिया और खुद भी जहर गटक लिया। इसके बाद उसने ससुराल के पड़ोस में रहने वाले एक रिश्तेदार को बताया कि उसने बच्चों के साथ जहर पी लिया। रिश्तेदारों ने इसकी सूचना पुलिस और प्रीति को दी।

मौके पर पहुंची डायल 100 पुलिस ने तीनों को इलाज के लिए हमीदिया अस्पताल भेज दिया। जहां तीनों की हालत खतरे से बाहर है। प्रीति ने गुनगा पुलिस को बताया कि करण शराब पीने और नशा करने का आदि है। वह सारी कमाई शराब और नशे में ही उड़ा देता है। उसके साथ मारपीट करता है। पुलिस ने शिकायत पर करण के खिलाफ हत्या के प्रयास और आत्महत्या करने का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Related posts