PS गुनगा: जिंदगी से हारकर युवक ने मौत को चूमा

भोपाल। राजधानी भोपाल में खुदकुशी के मामले कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं। आर्थिक तंगी, मानसिक परेशानी, प्रेम प्रसंग में धोखा, नशे की लत के चक्रव्यूह में लोग इतना फंस रहे हैं कि चिता पर लेटने को मजबूर हो रहे हैं। ऐसा ही एक खुदकुशी का मामला गुनगा थाने में सामने आया जहां एक युवक ने फांसी लगाकर जान दे दी। पुलिस ने मृग कायम कर शव को पीएम के लिए भेज दिया है।

jansamparklife.com को मिली जानकारी के अनुसार, 27 वर्षीय बृजेश अहिरवार पुत्र घीसीलाल ग्राम हर्राखेड़ा गुनगा में रहता था। वह मेहनत मजदूरी करता था। उसके माता पिता शनिवार को गांव गए थे। बृजेश घर पर अकेला था। इस दौरान उसने घर में फांसी का फंदा बनाकर खुदकुशी कर ली। घटना का पता तब चला जब पड़ोस में रहने वाली उसकी चचेरी बहन खाने का पूछने के लिए उसके पास आई।बहुत देर तक दरवाजा खटखटाने के बाद भी जब दरवाजा नहीं खुला तो उसने खिड़की से झांककर देखा तो बृजेश फांसी पर झूल रहे थे।

युवती ने इसकी जानकारी अपने भाई को अखिलेश को दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मृग कायम कर शव को पीएम के लिए भेज दिया है। पुलिस को मृतक के पास से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है जिससे मौत के कारणों को पता चलता।

परिजनों से पूछताछ में पता चला है कि बृजेश मजदूरी करता था। आर्थिक तंगी से वह परेशान रहता था। फिलहाल पीएम रिपोर्ट के आने के बाद ही मौत के असली कारणों का खुलासा होगा।

Related posts