खण्डवा: 3 दिन बाद स्ट्रांग रूम की सील तोड़कर जमा हुई EVM, नायब तहसीलदार ससपेंड

खण्डवा मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव 2018 के चुनावों के बाद EVM को लेकर माहौल गरमाने लगा हैं। खुरई के बाद अब खंडवा जिले के पंधाना में 3 दिन बाद EVM जमा करने का मामला सामने आया हैं। यहां तीन ईवीएम और दो वीवीपैट मशीनें शुक्रवार सुबह निर्वाचन अधिकारी के लैटर के बाद डाइट में जमा कराई गईं। तीनों मशीनें रिजर्व थीं, जो एसडीएम पंधाना और एक थाना छैगांवमाखन के क्षेत्र की थीं। इस संबंध में पंधाना एसडीएम को फोन लगाया गया तो उन्होंने सवाल सुनते ही फोन कॉल काट दिया। राजनीतिक…

48 घण्टे की देरी से पल्ला झाड़ सागर कलेक्टर ने उलझाया नायाब तहसीलदार को

सागर। मध्यप्रदेश बता दे कि मतदान खत्म होने के बाद खुरई विधानसभा क्षेत्र में ईवीएम पेटी के 48 घंटे बाद स्ट्रांग रूम पहुंचने पर कांग्रेस व अन्य पार्टी के समर्थकों ने खूब बवाल मचाया था इसी संदर्भ में चुनाव आयोग ने सागर कलेक्टर को आदेश दिए थे कि इतना विलंब का कारण क्या हुआ और 48 घंटे के बाद जो स्कूल की बस ईवीएम मशीनों को स्ट्रांग रूम में पहुंचाने आई थी उस पर कोई नंबर क्यों नहीं डाला था. इस पर चुनाव आयोग में सागर कलेक्टर से जल्द से…

‘लिख के देदो साइन नही करूँगा’ पर भाजपा पार्षद ने दी मूलनिवासी पत्र बनवाने आए युवक को गन्दी गालियां

मध्य प्रदेश उज्जैन की महाकाल नगरी में पार्षद की दबंगई सामने खुलकर आई है। यह वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जहां पर एक युवक भाजपा पार्षद को विनम्र पूर्वक सर कहकर बोल रहा है कि उसको यहां का मूल निवासी बनवाना है जिस पर भाजपा पार्षद ने वार्ड ना होने का बहाना कर युवक को टरकाने की कोशिश की। भाजपा पार्षद बार-बार यह कहते नजर आए कि यह कार्य उनके क्षेत्र या वार्ड में नहीं आता है इसलिए वह काम नहीं कर सकते। उस पर…

स्ट्रांग रूम की सुरक्षा व्यवस्था के लिए कलेक्टर एवं एसपी जिम्मेदार: व्ही. एल. कान्ता

भोपाल मध्यप्रदेश मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी व्ही. एल. कान्ता राव ने बताया की प्रदेश में मतदान पूर्ण होने के बाद सभी ईव्हीएम एवं व्ही.व्ही.पैट स्ट्रॉग रूम में जमा की जा चुकी है । कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी तथा पुलिस अधीक्षक जिलों के स्ट्रॉग रूम की सुरक्षा तथा प्रोटोकॉल के सावधानी पूर्वक क्रियान्वयन कर रहे हैं। राव ने कहा कि सभी 51 जिलों में स्ट्रॉग रूम की सुरक्षा केन्द्रीय सुरक्षा बल द्वारा 24 घण्टे की जा रही है। इसके साथ ही दूसरा घेरा विशेष सशस्त्र बल द्वारा संपादित किया जा रहा…

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने दिए बिना नंबर प्लेट की गाड़ी की जांच के आदेश सागर कलेक्टर को

सागर। मध्यप्रदेश मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के मतदान संपूर्ण हो चुके हैं जिसके बाद 11 दिसंबर को मतगणना होगी और परिणाम घोषित किए जाएंगे कि कौन सी पार्टी इस बार सत्ता पर काबिज होती है। उससे पहले मतदान और मतगणना के बीच ईवीएम मशीनों की सुरक्षा प्रदेश का एक बड़ा मुद्दा बन गया है जहां एक तरफ जिला प्रशासन इस बात पर डटे हुआ है कि उनकी तरफ से कोई भी लापरवाही नहीं बरती जा रही है एवं सुरक्षा व्यवस्था कड़ी है वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस का यह आरोप है…

धीमी गति से शुरू हुआ अनूपपुर के मौहरी क्षेत्र में मतदान, 100 से ज्यादा पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई

मध्यप्रदेश में अनूपपुर जिले में वोटों में अच्छा खासा अंतर होने के बाद चुनाव आयोग ने यहां पर फिर से मतदान करवाने की घोषणा की थी। आज अनूपपुर जिले के मौहरी में विधानसभा चुनावों के लिए दोबारा मतदान करवाया जा रहा हैं। मौहरी के मतदान केन्द्र क्रमांक 180 में आठ बजे शुरू हुआ मतदान शाम पांच बजे तक चलेगा। आज शनिवार को हो रहे मतदान की गति धीमी दिखाई दे रही है। सुबह 10 बजे तक केवल एक-दो लोग ही मतदान करने मतदान केंद्र तक पहुँचे हैं। आरोप है कि…

भोपाल: एडीएम, कलेक्टर समेत ज़िला प्रशासन के खिलाफ हुई चुनाव आयोग में शिकायत

भोपाल: मतदान पूर्ण होने के बाद सभी बूथों पर मतदान वाली ईवीएम मशीनों को पेटी में सील करके भोपाल पुरानी जेल के अंदर मौजूद स्ट्रांग रूम में रखा गया है. मॉनिटरिंग के लिए बाहर डिस्प्ले लगाया गया है जिसमें स्ट्रांग रूम के अंदर मौजूद सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में पूरे रूम के अंदर हो रही गतिविधियों पर बाहर से नजर रखी जा सके. आज सुबह स्ट्रांग रूम में शार्ट सर्किट होने के कारण सीसीटीवी बंद हो गए थे जिसकी वजह से स्वयं निगरानी कर रहे कांग्रेस के प्रत्याशी आग बबूला…

180 मतदान केंद्रों पर 56 लोगों के वोटों में अंतर पाए जाने के बाद अन्नुपुर में कल पुनः मतदान

अन्नुपुर। मध्यप्रदेश मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव 28 नवम्बर को सम्पन्न हो चुके हैं जिसके बाद सभी प्रत्याशी चैन की सांस ले घर मे बैठ कर चुनावो की थकान दूर करते हुए नज़र आ रहे हैं हैं वही मध्यप्रदेश में एक जगह ऐसी भी हैं जहां बहुत बड़ी गड़बड़ी पाए जाने के बाद पुनः मतदान की संभावना बन गयी हैं। बता दे कि इस बार के चुनावों के दौरान मतदान में रुकावटों का थिगड़ा खराब ईवीएम मशीनों पर फोड़ा गया हैं। प्रदेश में सुस्त ईवीएम संचालक के साथ साथ ऐसी अनेको जगह…

राजधानी के स्ट्रांग रूम में गड़बड़ी होने के बाद अब कांग्रेस देगी प्रत्याशियों को गड़बड़ी रोकने की ट्रेनिंग, 6 दिसम्बर को बैठक

भोपाल। मध्यप्रदेश विधान सभा चुनावों की सम्पन्नता के बाद अब सभी प्रत्याशियों की नज़र 11 दिसंबर पर टिकी हुई हैं जिस दिन पार्टी के सभी प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला होगा। मतदान की सभी पेंटिया जिला की पुरानी जेल में नजरबंद करदी गयी हैं और इसके लिए कांग्रेस ने विशेष प्लान भी बना लिया हैं। पीसीसी चीफ कमलनाथ ने 6 दिसंबर को भोपाल में बैठक बुलायी है जिसमें प्रत्याशियों को मतगणना में गड़बड़ी रोकने की ट्रेनिंग दी जाएगी। कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव में खड़े हुए अपने सभी 229 प्रत्याशियों को…

शॉर्ट सर्किट के बाद विवाद बढ़ने पर जिला प्रशासन ने पहुंचाया स्ट्रांग रूम में जनरेटर

भोपाल। मध्यप्रदेश मतदान की सारी पेटियां जिले की अंदरूनी चारदीवारीओं में कैद कर दी गई थी जिसके बाहर सीसीटीवी कैमरे से अनेक पार्टी के विभिन्न प्रत्याशियों एवं प्रशासन द्वारा अंदर हो रही गतिविधियों पर नजर रखी जा रही थी। बता दें कि लिहाजा अचानक से सीसीटीवी कैमरे के खराब होने से बाहर हल्ला मच गया और कांग्रेस पार्टी के कुछ मुख्य नेताओं ने तुरंत ही चुनाव आयोग से कलेक्टर एवं जिला प्रशासन की शिकायत कर डाली। बता दें कि इस मामले पर कलेक्टर ने सफाई देते हुए कहा कि अंदर…