70 हज़ार के जुर्माने के साथ आकाश विजयवर्गीय को भोपाल कोर्ट ने दी ज़मानत

भोपाल: कानून किस तरह अपनी उंगलियों पर किसी भी आदमी को नचा सकता हैं एवं कैसे बड़े से बड़ा जुर्म कर अदालत में बरी हुआ जा सकता हैं इसका जीता जागता सबूत हैं आकाश विजयवर्गीय को मिली आज भोपाल स्पेशल कोर्ट से जमानत दर्शाती हैं। बता दे कि आकाश भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे हैं,
आकाश ने 26 जून को निगम अफसर की बैट से पिटाई की थी जिसका कथित वीडियो वायरल होने के बाद खूब खलबली भी मच गई थी। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री रह चुके भाजपा के शिवराज सिंह चौहान ने हालांकि आकाश विजयवर्गीय के मामले में कुछ भी बोलने से बेहतर मौन होने को समझा वहीं दूसरी तरफ भाजपा के कुछ प्रमुख लोगो को यह कहते हुए पाया गया कि आकाश अभी राजनीति में नए हैं उनको समझाएंगे। इंदौर ने जहां आकाश की ज़मानत याचिका को खारिज़ किया वही आज स्पेशल कोर्ट में हुई सुनवाई के दौरान आकाश को भोपाल कोर्ट से राहत मिली हैं।
26 जून को गिरफ्तारी के बाद आकाश को 15 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेजा गया था। इंदौर कोर्ट से अर्जी खारिज होने के बाद आकाश के वकील ने भोपाल की विशेष अदालत में जमानत के लिए याचिका दाखिल की थी। इस कोर्ट में विधायकों और सांसदों के मामलों की सुनवाई होती है।

कोर्ट ने शुक्रवार को इंदौर से केस से जुड़े दस्तावेज मंगवाने के आदेश देते हुए सुनवाई के लिए शनिवार का दिन तय किया था। दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद जज सुरेश सिंह ने आकाश को मारपीट के मामले में 50 हजार और राजवाड़ा में बिजली कटौती के विरोध में प्रदर्शन के केस में 20 हजार रुपए के मुचलके पर जमानत दी।

Related posts