सिख दंगे के दोषी सज्जन कुमार ने दिल्ली की कड़कड़डूमा अदालत में किया सरेंडर

नई दिल्ली। 1984 के सिख दंगों से संबंधित एक केस में दिल्ली हाईकोर्ट से उम्रकैद की सजा पाने वाले कांग्रेस के पूर्व नेता सज्जन कुमार ने आज दिल्ली की कड़कड़डूमा अदालत में सरेंडर किया। दिल्ली हाईकोर्ट ने सज्जन कुमार को आजीवन कारावास की सजा सुनाने के बाद 31 दिसंबर तक सरेंडर करने को कहा था। वहीं सज्जन कुमार से पहले दोषी महेंद्र यादव और किशन खोकर ने कड़कड़डूमा अदालत में सरेंडर किया। दोनों को कोर्ट ने 10-10 साल की सजा सुनाई है। उल्लेखनीय है कि इससे पहले सज्जन कुमार ने अर्जी देकर सरेंडर करने के लिए 30 जनवरी तक का समय मांगा था लेकिन कोर्ट ने इसे नामंजूर कर दिया था।

सज्जन कुमार ने कोर्ट में कहा था कि उन्हें अपने बच्चों और जायदाद से जुड़े कुछ पारिवारिक मसले निपटाने के लिए कुछ वक्त चाहिए लेकिन कोर्ट ने उनकी अर्जी रद्द कर दी थी। उल्लेखनीय है कि 17 दिसंबर को दिल्ली हाईकोर्ट ने कांग्रेस नेता सज्जन कुमार को सिख दंगे के एक मामले में दोषी ठहराते हुए उम्र कैद की सजा सुनाई थी।

Related posts