सागर: गणेश पंडाल ढहा, दो महिलाओं ने गवाई जान अन्य 4 गम्भीर रूप से घायल

सागर। बारिश और तूफान का कहर प्रदेश में आफत की जड़ बन चुका हैं, एक ओर ऐसे भयानक मौसम के चलते दर्जनों भर से ज़्यादा लोगो ने अपनी जान गवा दी हैं वही दूसरी तरफ़ मौसम ने त्योहारों का मज़ा भी किरकिरा करके रख दिया हैं। सागर ज़िले में गणेशोत्सव के दौरान मौसम के चलते दर्दनाक हादसा हो गया। गणेश पंडाल के नज़दीक एक घर की दीवार ढहने से दो महिलाओं की मौत हो गई और चार अन्‍य घायल हो गए हैं।
सागर ज़िले के बमुरा गांव में गणेश उत्सव के दौरान फैला हर्ष उल्लास का माहौल मातम में बदल गया। गणेश पंडाल में भजन-कीर्तन के बीच अचानक चीख़-पुकार मच गई। यहां एक गणेश पंडाल में पूजा चल रही थी, जिसमें काफी भीड़ थी। उसी दौरान पास की एक दीवार भरभरा कर ढह गई। उसके मलबे की चपेट में पूजा में शामिल होने आईं कई महिलाएं आ गईं। चीख़-पुकार सुनकर आसपास के लोग बचाने के लिए भागे। फौरन राहत और बचाव कार्य किया गया। मलबे में से महिलाओं को निकालकर अस्पताल पहुंचाया गया, लेकिन तब तक दो महिलाओं की मौत हो चुकी थी। मलबा गिरने से चार अन्‍य महिला श्रद्धालु घायल हो गई हैं। सभी का इलाज किया जा रहा है।

घायलों से मिलने पहुँचे गोपाल भार्गव
हादसे की ख़बर मिलते ही नेता प्रतिपक्ष और बीजेपी के वरिष्‍ठ नेता गोपाल भार्गव भी अस्पताल पहुंचे और घायलों और दुर्घटना के बारे में जानकारी ली। उन्होंने डॉक्टरों से बात की और घायलों के बेहतर इलाज के लिए कहा उन्होंने तहसीलदार को मृतकों के परिवार और घायलों को राहत राशि देने का निर्देश दिया।

Related posts