श्रीलंका को 7 विकेट से हराकर भारत पहुंचा टॉप पर…अब भिड़ेगा न्यूजीलैंड से

लीड्स। वर्ल्ड कप 2019 का 44वां मैच…इंडिया वर्सेज श्रीलंका…यह भारत के लिए एक ऐसा मैच था जिसे जीतने पर भारत पाइंट टेबल में टॉप पर पहुंच जाता। हुआ भी वैसा ही इस मैच में भारत ने श्रीलंका को 7 विकेट से हरा दिया। इस मैच में पहले गेंदबाजी करते हुए भारत ने श्रीलंका को 264 रनों पर रोक दिया। टार्गेट को चेस करने उतरे भारतीय टीम के ओपनर रोहित शर्मा और केएल राहुल…क्रीज पर आते ही रोहित राहुल ने बता दिया कि उनका इंजन गरम है। दोनों ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी कर शतक लगाए और टीम को जीत दिला दी। इसके साथ ही एक विश्व कप में सर्वाधिक 5 शतक लगाने वाले बल्लेबाज बन गए हैं रोहित शर्मा।

श्रीलंका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया। श्रीलंका ने एंजिलो मेथ्यूज के शतक और लाहिरू थिरिमाने की फिफ्टी के दम पर भारत के सामने 265 रनों का लक्ष्य रखा। श्रीलंका की शुरूआत खराब रही…दिमुथ करूणारत्ने, कुशल परेरा, अविष्का और कुशल मेंडिल जल्दी आउट हो गए। दिमुथ करूणारत्ने को 10 रनों के स्कोर पर और कुशल परेरा को 18 रनों के स्कोर पर जसप्रीत बुमराह ने धोनी के हाथों कैच आउट कराया। अविष्का को हार्दिक पांड्या ने 20 रनों के स्कोर पर धोनी के हाथों कैच आउट कराया। कुशल मेंडिल 3 रन बनाकर रवींद्र जडेजा की गेंद पर आउट हुए।

Angelo Mathews stroked a mature ton to help Sri Lanka revive and post a reasonable total of 264

इसके बाद बल्लेबाजी करने आए एंजेलो मैथ्यूज ने कोई विकेट गिरने नहीं दिया। लाहिरू थिरिमाने और मैथ्यूज ने पांचवें विकेट के लिए 124 रन की साझेदारी की। तिरिमन्ने ने 68 गेंद में 53 रन जोड़े। श्रीलंका को पांचवा झटका लाहिरू के रूप में लगा उन्हें कुलदीप यादव ने रवींद्र जडेजा के हाथों कैच आउट कराया। मैथ्यूज ने छठे विकेट के लिए धनंजय डिसिल्वा के साथ 74 रन की साझेदारी की जिसकी मदद से श्रीलंका ने 250 रन का आंकड़ा छुआ। इस दौरान मैथ्यूज ने शानदार 118 रनों की पारी खेली। डिसिल्वा ने 36 गेंद में 29 रन बनाए। श्रीलंका को छटवां झटका मैथ्यूज के रूप में लगा। उन्हें जसप्रीत बुमराह ने रोहित के हाथों कैच आउट कराया। सातवें विकेट के रूप में थिसारा परेरा आउट हुए।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने ओपनर रोहित शर्मा और केएल राहुल के शतकों की मदद से 43.3 ओवर में 3 विकेट खोकर 265 रन बनाकर जीत हासिल की। रोहित ने 94 गेंद में 103 रन बनाए। राहुल ने उनका बखूबी साथ निभाते हुए विश्व कप में अपना पहला शतक जड़ा। दोनों ने पहले विकेट के लिए 30 ओवर में 189 रन जोड़े। रोहित कासुन रजीता की गेंद पर मैथ्यूज को कैच देकर लौटे। वहीं राहुल 41वें ओवर में लसिथ मलिंगा का शिकार हुए जिनका कैच विकेट के पीछे कुसल परेरा ने लपका। उन्होंने 118 गेंदों में 111 रन बनाये जिसमें 11 चौके और एक छक्का शामिल है। ऋषभ पंत चार रन बनाकर इसुरू उडाना की गेंद पर पगबाधा आउट हुए। कप्तान विराट कोहली 34 और हार्दिक पंड्या सात रन बनाकर नाबाद रहे।

KL Rahul notched up his maiden world cup century

इस जीत के साथ भारत 9 मैचों में 15 अंक लेकर अंकतालिका में शीर्ष पर पहुंच गया है। अब तक शीर्ष पर ऑस्ट्रेलिया काबिज था लेकिन कल उसे दक्षिण अफ्रीका से हार मिली जिसके चलते भारत उसे पछाड़कर टॉप पर आ गया। अब भारत का सेमीफाइनल में मुकाबला न्यूजीलैंड से और ऑस्ट्रेलिया का इंग्लैंड से होगा।

Rohit Sharma continued his good run of form with the bat and stroked a record fifth century in the world cup, surpassing Kumar Sangakkara's record of four. He also equalled Sachin Tendulkar's record of most centuries is world cups (6).

रोहित का इस विश्व कप में पांचवां शतक है। उन्होंने श्रीलंका के पूर्व कप्तान कुमार संगकारा का रिकार्ड तोड़ा जिन्होंने 2015 विश्व कप में चार शतक बनाए थे। रोहित ने विश्व कप में सर्वाधिक शतकों के सचिन तेंदुलकर के रिकार्ड की भी बराबरी की। दोनों के नाम छह शतक हो गए हैं। रोहित ने 2015 विश्व कप में बांग्लादेश के खिलाफ शतक बनाया था। तेंदुलकर ने 1996, 1999,2003 और 2011 विश्व कप में शतक बनाए। तेंदुलकर के छह शतक 44 पारियों में बने जबकि रोहित ने सिर्फ 16 पारियों में यह कारनामा किया।

Related posts