शोभा ओझा ने नेता प्रतिपक्ष पर दागे कई सवाल

भोपाल। भाजपा नेताओं द्वारा कांग्रेस सरकार पर बयानबाजी जारी है। नेता प्रतिपक्ष ने कमलनाथ पर विवादित टिप्पणी की थी जिसका प्रदेश कांग्रेस मीडिया विभाग की अध्यक्ष शोभा ओझा ने पलटवार किया है। उन्होंने मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा दावोस में दिए गए बयान पर नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव की प्रतिक्रिया को हास्यास्पद और हताशापूर्ण बताया है। नेता प्रतिपक्ष को मुख्यमंत्री के बयान से इसलिए भी ठेस पहुंची है कि उन्होंने भाजपा विधायकों के कांग्रेस के सम्पर्क में रहने की पोल खोलकर रख दी है।

शोभा ओझा ने गुरुवार को मीडिया को जारी अपने बयान में गोपाल भार्गव से पूछा है कि उन्हें यह भी बताना होगा कि भाजपा के 15 वर्ष के शासन काल में जो इन्वेस्टर्स मीट हुई हैं, उनसे कितने उद्योग स्थापित हुए और कितने लोगों को रोजगार मिला? भाजपा सरकार में हुई इन्वेस्टर्स मीट कितनी शासकीय राशि खर्च हुई उसका हिसाब किताब भी भाजपा आज तक नहीं दे पाई, उल्टे कांग्रेस सरकार पर आरोप लगा रही है, जो कतई उचित नहीं है। शोभा ओझा ने गोपाल भार्गव द्वारा कमलनाथ को लेकर दिए गए बयान को आपत्तिजनक और हास्यास्पद बताते हुए कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ की विदेशी निवेशकों से हुई मुलाकात के बेहतर परिणाम निश्चित रूप से सामने आएंगे।

मुख्यमंत्री का पद संभालने के डेढ़ माह के भीतर निवेशकों से चर्चा करने के लिए विदेश जाने से मध्य प्रदेश में औद्योगिक संभावनाएं फलीभूत होंगी। गोपाल भार्गव के बयान में उनकी कुंठा इसलिए भी झलकती है कि भाजपा शासन काल के तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अनेक बार विदेश यात्रा करने के बावजूद भी भार्गव को साथ ले जाना उचित नहीं समझा, जबकि भार्गव के पास पंचायत ग्रामीण विकास जैसा भारी भरकम विभाग था।

Related posts