शिवराज सिंह चौहान के पिता का आज शाम नर्मदा घाट पर होगा अंतिम संस्कार

भोपाल। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के पिता प्रेम सिंह चौहान (82 वर्ष) का कल शनिवार को मुंबई के लीलावती अस्पताल में उपचार के दौरान निधन हो गया। वे लंबे वक्त से बीमार चल रहे थे। उन्हें दो दिन पूर्व ही उपचार के लिए मुंबई ले जाया गया था। जहां उनका दुखद निधन हो गया। मौत की दुखद खबर से भाजपा में शोक की लहर दौड़ गई। मुख्यमंत्री कमलनाथ, दिग्विजय सिंह, सुरेश पचौरी सहित कई कांग्रेसियों ने भी शिवराज के घर पहुंचकर उनके पिता को श्रद्धांजलि दी।

शिवराज सिंह को सांत्वना देते मुख्यमंत्री कमलनाथ।

शिवराज सिंह चौहान मौत की खबर सुनते ही मुंबई पहुंच गए थे। जहां देर रात अपने पिताजी की पार्थिव देह लेकर विशेष विमान से साकेत नगर भोपाल में अपने घर पहुंचे। आज सुबह 9 बजे तक उनके पिता के लोगों ने अंतिम दर्शन किए इसके बाद उनकी पार्थिव देह को उनके पैतृक गांव जैत ले जाया गया जहां शाम 4 बजे नर्मदा के तट पर अंतिम संस्कार किया जाएगा।

कैलाश विजयवर्गीय से गले मिलते समय अपने आंसू नहीं रोक पाए शिवराज सिंह।

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शोक जताते हुए कहा कि स्व. प्रेम सिंह धार्मिक स्वभाव, सीधे व सरल व्यक्तित्व के धनी थे। सामाजिक कार्यों में उनकी गहरी रूचि थी। भाजपा के राष्ट्रीय व प्रदेश के नेताओं ने भी शोक संतप्त परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की है। भाजपा नेताओं का भी ​शिवराज के घर उनके पिता को श्रद्धासुमन अर्पित करने के लिए तांता लगा रहा। उमा भारती, आलोक शर्मा, प्रहलाद भारती, रामेश्वर शर्मा, रामपाल सिंह सहित कई भाजपा नेता उनके घर पहुंचे। कैलाश विजवर्गीय से गले मिलकर शिवराज सिंह चौहान फफक—फफक कर रो पड़े। पिता को खोने का गम उनके चहरे पर साफ दिखाई दे रहा था।

Former Chief Minister Shivraj Singh's father dies

Related posts