शिकंजा: 25 हजार की रिश्वत लेते पंचायत सचिव को लोकायुक्त ने किया गिरफ्तार

छतरपुर। सरकारी नौकरी, सब सुविधाएं उसके बावजूद सरकारी अधिकारी कर्मचारी रिश्वत लेने से बाज नहीं आ रहे। रिश्वतखोरी का एक मामला छतरपुर से सामने आया है। यहां पर लोकायुक्त की टीम ने पंचायत सचिव को 25 हजार की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है। पंचायत सचिव बिल पास करवाने के नाम पर एक लाख की रिश्वत की मांग कर रहा था।

जानकारी के अनुसार, छतरपुर की ईशानगर पंचायत के पंचायत सचिव अशोक गोस्वामी ने सरपंच प्रतिनिधि महेंद्र गुप्ता से बिल पास करवाने के नाम पर एक लाख रुपए की रिश्वत की मांग की थी। गुप्ता ने लोकायुक्त पुलिस से इसकी शिकायत की। लोकायुक्त टीम ने मामले को गंभीरता से लेते हुए आरोपी को पकड़ने के लिए जाल बिछाया। टीम ने पंचायत प्रतिनिधि गुप्ता को किश्त के रुप में 25 हजार रुपए लेकर भेजा। जैसे ही पंचायत सचिव अशोक गोस्वामी ने रिश्वत की पैसे लेने लगा तभी लोकायुक्त टीम ने उसे पकड़ लिया। लोकायुक्त ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है।

Related posts