वोटिंग से पहले प.बंगाल में हिंसा: भाजपा कार्यकर्ता सहित दो की मौत

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में सियासी बवाल जारी है। आज फिर लोकसभा चुनाव के छठे चरण की वोटिंग के दौरान वहां हिंसा की खबरें सामने आईं। आज रविवार सुबह वोटिंग शुरू होने से पहले ही बीजेपी के एक बूथ कार्यकर्ता रामेन सिंह की हत्या कर दी गई। ये घटना झारग्राम की है। बीजेपी का आरोप है कि टीएमसी कार्यकर्ताओं ने रामेन सिंह की पीट पीटकर हत्या कर दी है। उनका शव झारगांव के पास के गांव से बरामद किया गया है।

बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय ने आरोप लगाया है कि टीएमसी के कार्यकर्ता ने रामेन सिंह के घर में घुसकर उनकी हत्या कर दी। हालांकि टीएमसी ने इन आरोपों को खारिज किया। वहीं मरधारा के कांठी में एक टीएमसी कार्यकर्ता का भी शव बरामद हुआ है।

छठे चरण में पश्चिम बंगाल की 8 सीटों के लिए मतदान चल रहा है। इस दौरान हिंसा की कई खबरें आ रही हैं। मेदिनीपुर में भी बीजेपी के दो कार्यकर्ताओं को गोली मारी गई है, दोनों का अस्पताल में इलाज चल रहा है। बता दें की पश्चिम बंगाल में हिंसा का यह पहला मामला नहीं है। यहां हर चरण के मतदान के दौरान हिंसा की खबरें आती रही हैं। छठे चरण की वोटिंग के दौरान भी कई जगहों से हिंसा की खबरें आ रही हैं।

वहीं पश्चिम बंगाल की घाटल लोकसभा सीट से बीजेपी उम्‍मीदवार भारती घोष की गाड़ी पर हमला हुआ है। बीजेपी का आरोप है कि इस हमले को टीएमसी के कार्यकर्ताओं ने अंजाम दिया है। टीएमसी की महिला समर्थकों ने भारती से भी बदसलूकी की।टीएमसी की महिला कार्यकर्ताओं ने भारती घोष को बूथ की तरफ जाने से भी रोक दिया। आलम ये हुआ कि भारती घोष की आंखों से आंसू निकल गए।

Related posts