वेस्ट इंडीज की टीम ने इतने कम रन बनाए कि कोई मोहल्ले में भी न खिलाए

स्पोर्ट्स डेस्क। वेस्ट इंडीज टीम के खिलाड़ी तूफानी बैटिंग के लिए जाने जाते हैं। जब विंडीज खिलाड़ी खेलने पर आते हैं तो बॉलर के लिए मुसीबत का सबब बन जाते हैं। वेस्ट इंडीज खिलाड़ियों का नाम सुनते ही लम्बे—लम्बे छक्कों की याद आ जाती हैै। ऐसा लगता है कि यह लोग पैदा ही इसलिए हुए हैं। लेकिन सैंट किट्स में इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टी—20 में विंडीज टीम ने एक शर्मनाक रिकॉर्ड बना दिया। पूरी टीम महज 45 रनों पर धराशायी हो गई। और इंग्लैंड ने 137 रनों से शानदार जीत हासिल कर तीन मैचों की सीरीज पर 2-0 से कब्जा कर लिया है। ऐसे में इंग्लैंड टीम के तेज गेंदबाज क्रिस जॉर्डन के शानदार चार विकेट लिए।

दरअसल, विंडीज की टीम ने टॉस जीतकर पहले फील्डिंग करने का फैसला किया था और ये फैसला उन पर इतना भारी पड़ा कि वो शायद ही कभी भूल पाएंगे। वही इंग्लैंड की टीम पहले बल्लेबाजी करने उतरी और 32 रन पर उन्होंने अपने 4 विकेट गंवा दिए। लेकिन इंग्लैंड के दिग्गज खिलाड़ी जो रूट एक छोर पर टिके रहे और 40 गेंदों पर 55 रनों की पारी खेलकर उन्होंने अपनी टीम को किसी तरह वापस ट्रैक पर लाकर रख दिया। और इंग्लैंड को 182/6 के स्कोर तक पहुंचाया।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी मेजबान टीम का कोई बल्लेबाज 10 का आंकड़ा पार नहीं कर सका। सलामी बल्लेबाज क्रिस गेल केवल 5 रन बनाकर तीसरे ओवर की तीसरी गेंद पर डेविड विली का शिकार बने। इसी ओवर की पांचवीं गेंद पर शाई होप भी 7 के स्कोर पर विली के ओवर में कैच आउट हुए। एक ही ओवर में दोनों सलामी बल्लेबाजों का विकेट खोने के बाद विंडीज टीम उबर नहीं पाई। एक-एक कर सारे बल्लेबाज पवेलियन लौटे और पूरी टीम 11.5 ओर में 45 के स्कोर पर ऑलआउट हो गए। इंग्लैंड की ओर से क्रिस जॉर्डन के चार विकेट हॉल के अलावा डेविड विली, लियाम प्लंकेट और आदिल राशिद ने 2-2 विकेट लिए।

Related posts