रक्षाबंधन पर बहन को तोहफा देना भाई को पड़ा भारी, पत्नी ने लगा ली फांसी

कानपुर। साल भर भाई-बहन राखी के त्योहार का इंतजार करते हैं। यह दिन भाई बहनों के लिए एक विशेष पर्व होता है। हर बहन अपने भाई की कलाई पर राखी बांधकर गौरव महसूस करती है। भाई भी अपनी बहन के लिए इस दिन कुछ खास तोहफा देने की कोशिश करते हैं। लेकिन रक्षाबंधन के दिन यूपी के कानपुर में भाई ने जब बहन से राखी बंधवाने के बाद नेग दिया तो पत्नी उस नेग को देखकर आगबबूला हो गई। जी हां रक्षाबंधन के मौके पर रविवार को भाई को राखी बांधने आई बहन को हर साल की तरह एक हजार रूपये देने पर पत्नी ने विरोध किया। इसी बात को लेकर दोनों के बीच कहासुनी हुई। बात इतनी बढ़ी कि पत्नी ने फांसी लगा ली। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। फिलहाल पुलिस घटना की जांच कर रही है।

घटना शहर के जूही इलाके की है। यहां के रहने वाला आशीष पेशे से कांच का कारिगर है। रक्षाबंधन के मौके पर कानपुर शहर में रहने वाली उसकी बहन राखी बांधने पहुंची थी। जहां हमेशा की तरह उसने एक हजार रूपये दिए। आशीष की पत्नी कविता (25) ने इसका विरोध किया। पत्नि 500 रूपये देने की बात कह रही थी। जैसे ही आशीष अपनी बहन को छोड़ने बाहर गया तो उसकी पत्नी कविता ने पंखे से लटककर जान दे दी। घर लौटने पर पत्नि को फांसी के फंदे पर लटका देख आशीष के होश उड़ गए।

बता दें कि आशीष का परिवार मूल रूप से बिहार का रहने वाला है। यहां वह किराए का मकान लेकर परिवार समेत रह रहता है। आशीष की शादी दो साल पहले हुई थी। उसका 9 महिने का एक बेटा भी है। घटना के बाद इलाके में सन्नाटा पसरा हुआ है।

Related posts