मप्र: समाजसेवी की शर्मनाक हरकत, घर में घुसकर नाबालिग से दुष्कर्म

बैतूल। मध्यप्रदेश में बच्चियों के साथ दरिंदगी जारी है। कुछ दिन पहले उज्जैन में बच्ची दरिंदगी की वारदात हुई फिर भोपाल के कमलानगर में एक 8 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी गई थी, उसके बाद सिंगरौली में मासूम बच्ची को हवस का शिकार बनाया गया था। यह मामले अभी शांत भी नहीं हुए थे कि बैतूल में एक 12 साल की लड़की को हवस का शिकार बनाया गया। हैरत की बात यह है कि इस वारदात को अंजाम निर्दलीय पार्षद और समाजसेवी का चोला पहनने वाले ने अंजाम दिया। पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

मिली जानकारी के अनुसार, बैतूल जिले में निर्दलीय पार्षद तथा समाजसेवी केंडू बाबा उर्फ राजेन्द्र सिंह चौहान को 12 साल की एक नाबालिग लड़की से दुष्कर्म के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। आरोपी हर साल रक्षा बंधन पर 1 हजार लड़कियों से राखी बंधवाता था। खुद को लड़कियों का भाई कहता था। वह गरीब लड़कियों को उपहार देता था। गरीबों के हित में आए दिन प्रदर्शन करता रहता था।

बता दें की दुष्कर्म की सुगबुगाहट काफी वक्त से चल रही थी। लेकिन आरोपी के पद और रूतबे के कारण पुलिस उस पर कोई कार्रवाई नहीं कर रही थी। लेकिन कल सोमवार को पुलिस ने इसमें एफआईआर दर्ज कर ली। राजेन्द्र सिंह चौहान को वर्ष 2018 में विधानसभा चुनावों के दौरान बगावत करने पर भाजपा से निष्काषित कर दिया गया था। इसके बाद उसने निर्दलीय पार्टी का दामन थाम लिया था।

यह है मामला
पीड़िता की मां ने पुलिस को बताया कि 19 मार्च को वह और उसका पति मजदूरी करने गए थे। शाम को घर लौटे तो 11 वर्षीय बेटी ने बताया केंडू बाबा उर्फ राजेंद्र सिंह पार्षद होली का कार्ड देने के बहाने घर में घुस गया और अंदर से दरवाजा बंद कर गलत काम किया। इसके पहले में भी बेटी को अकेला देखकर घर में घुसकर तीन बार गलत काम किया था।

Related posts