मप्र: मोबाईल की बैटरियां जोड़ने के दौरान धमाका, किशोर की हथेली के उड़े चिथड़े

अनूपपुर। जिला मुख्यालय से 13 किलोमीटर दूर बिजौड़ी गांव में संचालित निजी स्कूल में गुरुवार को सुबह 10.30 बजे के आसपास उस समय सभी छात्र सहम गए, जब कक्षा 7वीं में अचानक जोरदार धमाका हुआ। शिक्षक और संचालक ने मौके पर पहुंचकर देखा तो 13 वर्षीय छात्र सुनील कुमार केवट की दांयी हथेली की हड्डियां छोड़कर शेष मांसों के चिथड़े उड़ गए थे। साथ ही छात्र के सीने के पास भी गहरा जख्म बन गया था। यही नहीं शरीर के अन्य हिस्सों में छोटे-छोटे धब्बों के रूप में जख्म बने हुए नजर आए। आसपास बैठे छात्रों से पूछताछ में पता चला कि सुनील के हाथों में मोबाईल की बैटरी फटी है। कक्षा में खोजबीन करने पर एक बैटरी भी पाई गई। आनन फानन घटना की सूचना स्कूल संचालक ने परिजनों को दी। इसके बाद घायल छात्र को गम्भीर हालत में उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।

परिजनों के अनुसार, पुत्र मोबाईल की दो बैटरियां हमेशा अपने पास रखता था। जिसे अक्सर वह रात के समय बिजली गुल होने पर टार्च के बल्व के साथ जोड़कर घर में रोशनी करता था और फिर रात के समय पढाई करता था। जबकि गांव में बिजली है। लेकिन इसके बाद भी वह इस प्रकार की लापरवाही को अंजाम देता था। इसके लिए माता पिता ने कई बार उसे डांट फटकार कर मनाही भी की थी। लेकिन सुनील बैटरी अपने पास रखने से बाज नहीं आता था।

गुरूवार को हुए हादसे को लेकर स्कूल संचालक का कहना था कि सुबह जब सभी बच्चे अपनी कक्षाओं में बैठे हुए थे, तभी सुनील अपनी कक्षा में दो बैटरियों को वापस में जोडऩे का काम कर रहा था, इसी दौरान जोरदार धमाका हो गया। जिसमें उसकी हथेली के मांस के चिथड़े उड़ गए। हालांकि आसपास के बैठे छात्रों को किसी प्रकार का नुकसान नहीं हुआ। डॉक्टरों का कहना बैटरी विस्फोट जोरदार थी, लेकिन शुक्र रहा कि हथेली की हड्डिया सुरक्षित बच गई, मांस के भरने में समय लगेगा।

Related posts