मप्र: मनोहर पर्रिकर सहित नेताओं व शहीदों को श्रद्धांजलि देने के बाद हुई विधानसभा दिन भर के लिए स्थगित

मध्यप्रदेश विधानसभा के मानसून सत्र जोकि आज 8 जुलाई से प्रारंभ हुआ उसके पहले दिन सोमवार को पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर सहित नौ दिवंगत नेताओं तथा नक्सली एवं आतंकी हमले में शहीद हुए प्रदेश के दो जवानों को श्रद्धांजलि देने के बाद सदन की कार्यवाही दिन भर के लिए स्थगित कर दी गई। विधानसभा अध्यक्ष नर्मदा प्रसाद प्रजापति ने दिवंगत नेताओं एवं शहीदों के कामों की सराहना की और कहा कि यह सदन इन सभी दिवंगत नेताओं एवं शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित करता है। इसके बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी दिवंगत नेताओं एवं शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी। दिवंगतों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए मध्य प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कहा कि पर्रिकर जी सादगी के प्रतिमूर्ति एवं कर्तव्यनिष्ठ थे। उनका जीवन पूरे देश एवं राज्य के लिए उदाहरण है। वहीं, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं भाजपा नेता शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि पर्रिकर ने सेना में ‘वन रैंक वन पेंशन’ लागू किया। उन्होंने कहा कि नक्सलवाद एवं आतंकवाद अंतिम सांस गिन रहा है। दिवंगत नेताओं के सम्मान में सदन में दो मिनट का मौन रखने के बाद सदन की कार्यवाही दिन भर के लिए स्थगित कर दी गई।

Related posts