मप्र: कांग्रेस नेता सुरेंद्र राय का एक हत्यारा गिरफ्तार, मुख्य आरोपी फरार

नरसिंहपुर। 14 फरवरी की शाम को ग्राम बिछिया मानेगांव में गोटेगांव के कांग्रेस नेता एवं ठेकेदार सुरेंद्र राय की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। हत्या करने वाले एक आरोपी को शुक्रवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, जबकि मुख्‍य आरोपी अभी फरार है। विदित हो कि जब सुरेंद्र राय शाम करीब 6 बजे अपने साथी कमलेश पाठक के साथ ग्राम बिछिया मानेगांव स्थित साइड में गये थे तब पुलिया निर्माण को लेकर उनका गांव के ही विक्रम पिता विश्वपाल सिंह परिहार (राजपूत) 55 वर्ष एवं विक्रम के छोटे भाई अजय सिंह परिहार 50 वर्ष के साथ विवाद हो गया था।

इस दौरान विक्रम ने अपनी बंदूक से दोनों पर फायरिंग कर दी जिसमें सुरेंद्र राय के सीने व हाथ में एवं उनके साथी कमलेश पाठक को हाथ में गोली लगी। दोनों को घायल अवस्था में गोटेगांव अस्पताल लाया गया जहां से प्राथमिक उपचार के बाद दोनों को जबलपुर रिफर किया गया। जबलपुर में इलाज के दौरान सुरेंद्र राय की मौत हो गयी। मुख्य आरोपी को गिरफ्तार करने 5 टीमों का गठन उक्त घटना की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक धर्मेन्द्र सिंह भदौरिया द्वारा तत्काल एसडीओपी गोटेगांव पी.एस. वालरे एवं थाना प्रभारी ठेमी अशोक कुमार दाहिया एवं अन्य पुलिस बल को घटना स्थल पर पहुचनें हेतु निर्देशित किया गया।

पुलिस टीम के घटना स्थल पहुंचने पर पता चला कि उक्त वारदात बिछिया निवासी विक्रम सिंह ने अंजाम दी थी। घटना के वक्त विक्रम के साथ उसका छोटा भाई अजय उर्फ अज्जू सिंह था। जिसे गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है। मुख्य आरोपी विक्रम सिंह की गिरफ्तारी के लिए पुलिस अधीक्षक ने 5 टीमों का गठन किया है। एसपी धर्मेंद्र भदौरिया द्वारा स्वयं घटना स्थल का निरीक्षण किया गया एवं थाना ठेमी में कैंप कर प्रकरण की स्वयं मॉनिटरिंग कर रहें है। रायफल से किये फायर गोटेगांव एसडीओपी पीएस बालरे ने बताया कि जिस हथियार से फायरिंग की गयी वह संभवत: रायफल है। एक्सपर्ट की जांच व आरोपी की गिरफ्तारी के बाद यह और भी स्पष्ट हो जायेगा। इन्होंने बताया कि आरोपी के घर में 3 लायसेंसी बंदूकें होने की जानकारी मिली है।

Related posts