मप्र: आश्वासन देती रह गई सरकार, एक और मासूम ने गवा दी जान

भोपाल: नशे की लत से भी बत्तर वीडियो गेम की के लत ने एक बाप ने अपना बेटा खो दिया, मृतक के पिता ने पीएम मोदी से भारत में PUBG पर प्रतिबंध लगाने का आग्रह भी किया है। 26 मई को राजस्थान के नसीराबाद फुरकान कुरैशी शहर के बारहवीं कक्षा के एक छात्र ने लोकप्रिय ऑनलाइन गेम PUBG खेलते हुए मप्र के नीमच जिले के अपने पैतृक स्थान पर लगातार छह घंटे तक अपने मोबाइल पर गेेम खेलते खेलते अपनी जान गंवा दी। बता दे की गेम खेलने वाले किशोर की अचानक दिल का दौरा पड़ने से मौत हुई हैं।

कई राज्यों में इसे प्रतिबंधित कर दिया गया है और देश में इस ऑनलाइन गेम के कारण कई बच्चों की जान भी जा चुकी हैं, यही वजह है कि इस गेम को नशे की लत से भी बत्तर बताया जा रहा है। बेटे की मौत के बाद गहरे सदमे में, हारून रशीद कुरैशी ने (मृतक के पिता) भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से इस ख़तरनाक गेम को पूरी तरह से प्रतिबंधित करवाने की मांग भी की है।

फरवरी 2019 में, मंदसौर सीट से भाजपा विधायक, यशपाल सिंह सिसोदिया ने राज्य विधानसभा में यही मामला उठाया था और एमपी में PUBG ऑनलाइन गेम पर प्रतिबंध लगाने की मांग भी की थी। राज्य सरकार ने विधायक सिसोदिया को आश्वासन दिया था कि सरकार इस मामले में कार्रवाई करेगी, लेकिन आज तक सरकार द्वारा इस तरह की कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

Related posts