मप्र: आयकर विभाग ने नर्सिंग होम व सराफा प्रतिष्ठान पर डाली रेड

नरसिंहपुर। मध्यप्रदेश में आयकर विभाग लगातार छापामार कार्रवाई कर रहा है। अब आयकर विभाग ने अपनी कार्रवाही को पूरी तरह नर्सिंग होम व सराफा प्रतिष्ठान पर फोकस किया है। क्योंकि प्रदेश के कुछ शहर करोड़ों के बेनामी और फर्जी कारोबार का हब बन चुके हैं। सोमवार दोपहर को नरसिंहपुर में एक प्रायवेट नर्सिंग होम एवं एक सराफा प्रतिष्ठान पर आयकर विभाग जबलपुर की टीम ने एक साथ कार्रवाई करते हुए दस्तावेज खंगाले एवं गैर अनुपातिक संपत्ति की जांच की। आयकर विभाग के ज्वांइट डायरेक्टर बीके खंडेल के नेतृत्व में की गयी इस सर्वे कार्रवाई में कुल 10-12 अधिकारी-कर्मचारियों की टीम सक्रिय रही। जानकारी के अनुसार सोमवार दोपहर करीब एक बजे नरसिंहपुर पहुंची टीम ने अग्रवाल हॉस्पिटल एवं श्याम टॉकीज के पास स्थित ज्वेलर्स की दुकान खुशालचंद जैन रामकृष्ण सराफ में सर्वे कार्रवाई की। देर शाम तक यह कार्रवाई चलती रही। मीडिया ने कुछ अधिकारियों से चर्चा करने का प्रयास किया, किंतु उन्होंने कार्रवाई खत्म होने तक किसी भी तरह की चर्चा से इंकार कर दिया।

सराफा दुकान में ग्राहकों की नो एंट्री सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, दोनों स्थानों पर आयकर विभाग की टीमें उपलब्ध दस्तावेज खंगालकर मिलान करती रही। सराफा दुकान में टीम ने शटर को बंद किये बगैर ही कार्रवाई की, लेकिन बाहर तैनात पुलिस कर्मी ग्राहकों को भीतर जाने से रोकते रहे। अग्रवाल हास्पिटल में भी टीम द्वारा सामने का गेट बंद कर दिया गया था, बगल वाले गेट से मरीजों को एंट्री थी। बावजूद इसके किसी को भी ΄पर्याप्त ΄पूछताछ के बाद ही अंदर जाने दिया गया। यहां आयकर टीम द्वारा एक कमरे में सर्वे कार्रवाई की गयी। अधिकारियों ने छोटी-छोटी ΄पर्चियों का मिलान करने में भी रूचि दिखाई। कार्रवाई के बाद ही पता चल पायेगा कि कितनी अनुपातहीन संपत्ति उजागर हुई।

Related posts