मध्यप्रदेश में गर्मी ने दिखाए तीखे तेवर, कई जगह पारा 40 के पार

इंदौर/भोपाल। मार्च महीना खत्म होने को है और मध्यप्रदेश में रिकॉर्ड गर्मी पड़ रही है। सूरज के तीखे तेवर के चलते शुक्रवार को प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में दिन का अधिकतम तापमान 40 डिग्री के ऊपर पहुंच गया। वहीं, बीती रात भी तापमान भी 22 डिग्री के आसपास रहा। शनिवार को सुबह ही गर्मी ने लोगों को बेहाल कर दिया और 12 बजे तक सड़कें सुनसान नजर आने लगी। मौसम विभाग के अनुसार शनिवार और रविवार को भी अधिकतम तापमान 40 डिग्री के आसपास बना रहेगा। रात में भी तापमान 22 से 24 डिग्री तक रहने की संभावना है। दोनों ही तापमान सामान्य से 2 से 3 डिग्री अधिक रहेंगे। जानकारों के मुताबिक, इस बार जहां सर्दी ने रिकार्ड बनाया था, तो वहीं गर्मी भी भीषण होगी। पिछले एक हफ्ते के दौरान तेज हवाएं और आसमान में बादल रहने से गर्मी का असर ज्यादा नहीं था, लेकिन शुक्रवार को मार्च महीने में तापमान 40 डिग्री के ऊपर जा पहुंचा। भोपाल, इंदौर, खंडवा, जबलपुर समेत कई जगह यही स्थिति रही।

बुरहानपुर और खरगोन जिलों में तो तापमान 45 डिग्री के सर्वोच्च आंकड़े को छू गया। शनिवार को भी सुबह से यही स्थिति है। भीषण गर्मी से लोग बेहाल हैं और तेज धूप व तपन से बचने के लिए छांव तलाशते नजर आ रहे हैं। दोपहर में सड़कें और बाजार आदि सूने हो गए हैं। रविवार, 31 मार्च को भी इसी प्रकार से मौसम बना रहेगा। मौसम विशेषज्ञों का मानना है कि अगले माह तापमान 42 से 43 डिग्री तक पहुंच सकता है और मई, जून में झूलसाने वाली गर्मी होगी। इस बार 45 डिग्री के ऊपर तापमान जाएगा। पर्यावरण के दोहन के चलते पिछले कुछ वर्षों में ऐसा हो रहा है। लगातार जहां पेड़ काटे जा रहे हैं और नए पौधे नहीं सुरक्षित रह पा रहे है। वहीं नदियों, तालाबों का भी अस्तित्व खत्म हो रहा है। प्राकृतिक दोहन के चलते मौसम पर ज्यादा असर होता है।

Related posts