मध्यप्रदेश: कांग्रेस 15 को जारी कर सकती है उम्मीदवारों की पहली सूची

भोपाल। लोकसभा चुनाव की की तारीखों का ऐलान हो चुका है। घोषणा होने के बाद मध्यप्रदेश में राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो गई हैं। प्रदेश की दोनों प्रमुख पार्टियों भाजपा और कांग्रेस में उम्मीदवारों के चयन को लेकर विचार-मथन का दौर शुरू हो गया है। जानकारी मिली है कि कांग्रेस ने दस सीटों पर उम्मीदवार तय कर लिए हैं और आगामी 15 मार्च को पार्टी प्रदेश से चुनाव लडऩे वाले उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर सकती है। हालांकि, मुख्यमंत्री कमलनाथ का कहना है कि अभी चुनाव तक हमारे पास पर्याप्त समय है और हम उम्मीदवारों के चयन में जल्दबाजी नहीं करेंगे।

मध्यप्रदेश में लोकसभा की कुल 29 सीटें हैं। यहां कांग्रेस और भाजपा अपने-अपने दम पर चुनाव लड़ रही है, जबकि बसपा और सपा के बीच गठबंधन हुआ है। सपा को तीन सीटें मिली हैं, जबकि 26 पर बसपा अपने उम्मीदवार उतारेगी। वहीं, कांग्रेस पार्टी में उम्मीदवारों के चयन की प्रक्रिया शुरू हो गई है। सोमवार को दिल्ली में सोनिया गांधी के निवास पर कांगरेस स्क्रीनिगं कमेटी की बैठक हुई, जो देर रात तक चली। इस बैठक में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष व मुख्यमंत्री कमलनाथ सहित प्रदेश प्रभारी महासचिव दीपक बाबरिया और प्रभारी सचिव शामिल हुए। उम्मीद थी कि लोकसभा की 29 में से करीब 20 सीटों के लिए उम्मीदवारों के नाम पर मुहर लग जाएगी और सूची जारी कर दी जाएगी, लेकिन ऐसा हुआ नहीं।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, बैठक में केवल दस सीटों पर सहमति बन पाई है। बताया जा रहा है कि मुरैना से रामनिवास रावत, गुना से ज्योतिरादित्य सिंधिया, छिंदवाड़ा से नकुलनाथ, रतलाम से कांतिलाल भूरिया, धार से गजेंद्र सिंह राजूखेड़ी, खंडवा से अरुण यादव, बैतूल से अजय शाह, दमोह से रामकृष्ण कुसमरिया, सतना से अजय सिंह और सीधी से राजेंद्र सिंह को पार्टी अपना उम्मीदवार बना सकती है। इनके नाम लगभग तय हो चुके हैं। मुख्यमंत्री कमलनाथ का कहना है कि बैठक में सीटों को लेकर सैद्धांतिक चर्चा हुई है। उम्मीदवार कैसा हो, इस पर भी चर्चा की गई। दोबारा फिर से बैठक होगी, जिसमें उम्मीदवारों के नाम फायनल किये जाएंगे। अभी हमारे पास बहुत समय है। हमें घोषणा करने की जल्दी नहीं है।

Related posts