मध्यप्रदेश, कर्नाटक, केरल में भारी बारिश की चेतावनी, राहत कर्मी तैनात

नई दिल्ली/भोपाल। महराष्ट सहित देश के कई राज्यों में बारिश आफत बनकर आई है। असम बिहार के बाद अब कर्नाटक, मध्यप्रदेश, उड़ीसा, केरल में बारिश का अलर्ट जारी कर दिया गया है। महाराष्ट में अब तक 2.5 लाख और कर्नाटक में 26 हजार लोगों को रेस्क्यू किया गया। दोनों राज्यों में बाढ़ राहत कार्यों के लिए 1 हजार सैन्यकर्मी तैनात हैं। अकेले पश्चिमी महाराष्ट्र में पिछले सात दिन में 16 लोगों की मौत हो गई। कर्नाटक और आंध्र प्रदेश की कई नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं।

महाराष्ट्र का कोल्हापुर तो मानों टापू बन गया है। आसपास के गांवों की भी हालात खराब है जबकि हाईवे पर जाम लग गया है। राहत एजेंसियां कोशिश तो खूब कर रही हैं लेकिन आसमान से आफत की इतनी बारिश हो रही है कि ये कोशिशें नाकाफी साबित हो रही हैं और लोगों की परेशानी घटने का नाम नहीं ले रही हैं।

कर्नाटक के कई हिस्सों में बुधवार को भी भयंकर बाढ़ की स्थिति बनी रही , जिसकी वजह से लगभग 26,000 लोगों को उनके घरों से निकाला गया और पिछले तीन दिनों में बारिश से संबंधित घटनाओं में पांच लोगों की जान जा चुकी है। आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी। राज्य में बाढ़ की स्थिति गंभीर बनी हुई है। पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र में बांधों और कर्नाटक में बैराजों और जलाशयों के जल द्वार खोले जाने से बाढ़ आ गई। राज्य में लगातार हो रही मूसलाधार बारिश के कारण सड़क और रेल संपर्क प्रभावित हुआ है।

Related posts