भैंस चोरी के शक में ग्रामीणों ने युवक को पीटा, मौत

एटा। देश में लगातार मॉब लिंचिंग की कई घटनाएं सामने आ रही हैं। झूठी अफ़वाहों के चलते भीड़ ने कई लोगों को मौत के घाट उतारा है। ऐसा ही एक मामला जलेसर कोतवाली क्षेत्र के गांव नगला हीर में सामने आया है। जहां आज रविवार सुबह भैंस चुराने के शक पर ग्रामीणों ने उसे चोर समझकर पीट दिया। गंभीर हालत में घायल को पुलिस ने इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया। डाॅक्टरों ने उसे इलाज के दौरान मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले की जांच में जुट गयी। अपर पुलिस अधीक्षक संजय कुमार ने बताया कि जलेसर कोतवाली क्षेत्र के गांव नगला हीर में रविवार की सुबह एक युवक को ग्रामीणों ने भैस के पास संदेहास्पद स्थिति में खड़ा देखक पूछताछ की तो युवक भागने लगा। इस पर ग्रामीणों ने उसे घेरकर पकड़ लिया और उसे जमकर पीट दिया।

ग्रमीणों का संदेह है कि युवक भेंस चोरी करने आया था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायल युवक को पहले जलेसर, फिर एटा जिला अस्पताल में भर्ती कराया, जहां डाॅक्टर आरके दयाल ने उसे मृत घोषित कर दिया। एएसपी ने बताया कि मृतक की पहचान हाथरस के रामपुर गांव निवासी रवेन्द्र (32) के रुप में हुई है। अभी मृतक के परिवार की ओर से कोई तहरीर नहीं मिली है अगर मिलती है तो दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जायेगी। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।

Related posts