बेगानी शादी में अब्दुल्लाह जैसी दीवानी होने वाली शोभा ओझा ने कांग्रेस विवाद पर साधी चुप्पी

भोपाल। बता दे कि मध्यप्रदेश कांग्रेस में वन मंत्री उमंग सिंघार और दिग्विजय के बीच चलते ग्रह युद्ध के बाद शोभा ओझा वन मंत्री से मिलने गयी थी जिसके बाद पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए ओझा ने कहा था कि यह उमंग को मनाने नही उनसे चर्चा करने गयी थी। आगे शोभा ओझा ने कहा था कि पार्टी का मसला पार्टी के अंदर ही सॉल्व हो जाने चाहिए, कोई नाराज़गी होगी तो चर्चा करने पर वो दूर भी हो जाएगी। मुख्यमंत्री कमलनाथ सब सम्भाल लेंगे। अब लगता हैं मुख्यमंत्री कमलनाथ कुछ सम्भाल नही पा रहे इसी कारण सोनिया गांधी का फरमान हैं कि मामला शांत होने के बाद कमलनाथ कैबिनेट में फ़ेरबदल किए जाए। हालांकि यह फ़ेरबदल किसका हैं वो सबको ज्ञात हैं लेकिन कमलनाथ की कमज़ोरी मध्यप्रदेश में साफ झलक रही हैं। इन्ही सब खबरों के बाद जब पत्रकारों ने शोभा ओझा से कैबिनेट में फ़ेरबदल के बारे में पूछा तो शोभा ओझा ने हल्की से मुस्कुराहट बिखेरकर सवालों को टालने की कोशिश की और जगह से जितने जल्दी हो सके उतनी जल्दी 9 दो 11 हो गयी।

Related posts