बीजेपी सांसद के बयान को राजस्व मंत्री गोविंद सिंह ने बताया किसानों का अपमान

भोपाल। बीजेपी सांसद नंदकुमार सिंह चौहान ने मध्यप्रदेश में सत्ता परिवर्तन के लिए किसानों को कसूरवार ठहराया था। उन्होंने किसानों पर विवादित बयान देते हुए कहा था कि 2 लाख के लालच में किसानों ने कांग्रेस को वोट दिया था। इस बयान के बाद से राजनीति शुरू हो गई है। कांग्रेस इस बयान को किसानों का अपमान बताते हुए नंदकुमार सिंह चौहान पर हमले कर रही है। इसी कड़ी में सूबे की सरकार में राजस्व मंत्री गोविन्द सिंह राजपूत ने चौहान को आड़े हाथों लिया है।

गोविंद सिंह ने कहा है कि बीजेपी सांसद किसानों पर जिस तरह का आरोप लगा रहे हैं वह किसान भाईयों का अपमान है। गोविंद सिंह ने कहा कि किसान किसी लालच में नहीं आता है। हमारे किसान अन्नदाता हैं। हमारा देश किसान प्रधान देश है। बीजेपी के नेताओं का ये ही आचरण है। पूर्व में भी भाजपा के नेता किसानों के लिए ऐसे बयानबाजी कर चुके हैं।

गौरतलब है कि बारिश से फसलों की बर्बादी के चलते प्रदेश व केंद्र सरकार से मुआवजा राशि की मांग को लेकर किसानों ने खंडवा में गुरुवार को पुरानी अनाज मंडी में प्रदर्शन किया था। जिस पर बीजेपी सांसद नंदकुमार सिंह चौहान ने आयोजित एक सभा में कहा था कि प्रदेश के किसानो ने दो लाख के लालच में कांग्रेस को वोट दिया है। लेकिन इस बयान के साथ ही खुद चौहान किसानों के निशाने पर आ गए थे। भारतीय किसान संघ ने मंडी कार्यालय में ही सांसद के खिलाफ न केवल निंदा प्रस्ताव पास करते हुए केंद्र सरकार को पत्र लिखा, बल्कि उन्हें गांव में घुसने नहीं देने की भी बात की थी।

Related posts