प. बंंगाल में हिंसा जारी: भाजपा कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या, टीएमसी पर लगा आरोप

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव केे वक्त से चल रही हिंसा अब तक जारी है। सूबे के नादिया जिले में अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर भाजपा कार्यकर्ता की हत्या कर दी। मृतक हाल ही मेें टीएमसी छोड़कर भाजपा में शामिल हुआ था। भाजपा कार्यकर्ता की मौत सेे सियासत गर्मा गई है। वहीं भाजपा नेे हत्या के लिए टीएमसी को जिम्मेदार ठहराया है। बता दें कि पश्चिम बंगाल में पिछले कई सालों से भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या के मामले सामने आते रहे हैं।

जानकारी के अनुसार, पश्चिम बंगाल के नादिया जिले चकदाह इलाके में शुक्रवार रात को 25 साल के संतु घोष की अज्ञात बदमाशों नेे गोली मारकर हत्या कर दी। संतु कुछ दिन पहले ही तृणमूल का साथ छोड़कर भाजपा में शामिल हुए थे। भाजपा नेताओं ने ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस पर यह हत्या करवाने का आरोप लगाया है। दूसरी ओर, लोकसभा चुनाव नतीजों के बाद बैरकपुर सीट के कई शहरों में हिंसा हुई। धमाके में एक व्यक्ति की जान गई।

पुलिस के मुताबिक, संतु रात करीब 9 बजे घर लौटे थे। कुछ देर बाद दो लोगों ने उन्हें बाहर बुलाया और गोली मारकर फरार हो गए। परिजन संतु को अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। संतु के पिता कोलकाता के ज्वेलरी शोरूम में काम करते हैं। उन्होंने कहा- मुझे बेटे के भाजपा में शामिल होने की जानकारी नहीं थी। हालांकि, वह तृणमूल नेता पिंटू नाग का करीबी था।

भाजपा युवा मोर्चा के कौशिक भौमिक ने आरोप लगाया कि संतु को तृणमूल छोड़ने की वजह से ही मार दिया गया। वे भाजपा के चुनाव अभियान में बेहद सक्रिय रहे। गुरुवार को विजयी जुलूस में भी शामिल हुए थे। पिछले कुछ दिनों से उसे धमकियां मिल रही थीं। भाजपा का आरोप है कि तृणमूल संदेश देना चाह रही है कि जो भी तृणमूल से अलग होगा, उसका अंजाम संतु जैसा होगा।

हिंसा की राजनीति का जवाब जनता देगी: कैलाश विजयवर्गीय

कैलाश विजयवर्गीय ने अपने ट्विटर वॉल पर लिखा कि चुनाव तो समाप्त हो गये, किन्तु पश्‍चिम बंगाल में हिंसा नहीं रुक रही। उन्होंने कहा कि तृणमूल के गुंडे विपक्ष के नेताओं और उम्मीदवारों पर लगातार हमला कर रहे हैं। ममता बनर्जी की पार्टी हार स्वीकार नहीं कर पा रही है। टीएमसी के गुंडों ने एक और भाजपा कार्यकर्ता की निर्मम हत्या कर दी। ममता बनर्जी आपकी इस रक्त और हिंसा की राजनीति का जबाब जनता आपको जड़ से उखाड़ कर देगी।

Related posts