पुलवामा हमले पर सियासत जारी: दिग्गी राजा ने किया ट्वीटर वार

भोपाल। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस के वरिष्ट नेता दिग्विजय सिंह ने पुलवामा आतंकी हमले को ‘दुर्घटना’ बताकर एक बार फिर विवाद को हवा दे दी है। जिससे सियासत गर्मा गई। दरअसल दिग्विजय सिंह ने पुलवामा आतंकी हमले के सबूत मांग लिए थे। इसके बाद से ही विपक्ष उन पर हमलावर हो गया था। कल मंगलवार को दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर पुलवामा आतंकी हमले को ‘दुर्घटना’ बताया, जिस पर भाजपा को कांग्रेस पर हमला बोलने का मौका मिल गया। कई केन्द्रीय मंत्री और भाजपा नेताओं ने इस पर आपत्ति जताई। बुधवार को एक बार फिर दिग्विजय सिंह ने विरोधियों पर एक के बाद एक कई ट्वीट कर पलटवार किया है। पुलवामा हमले को दुर्घटना बताए जाने पर विपक्ष के निशाने पर आए कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने गुरुवार को एक के बाद एक चार ट्वीट कर विरोधियों पर पलटवार किया है।

दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर निशाना साधते हुए कहा है कि उप्र के उपमुख्यमंत्री ने भी पुलवामा हमले को दुर्घटना बताया था, क्या वे भी देशद्रोही है। दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर लिखा, “पुलवामा आतंकी हमले को मैंने ‘दुर्घटना’ कह दिया तो मोदी से लेकर तीन केंद्रीय मंत्री मुझे पाकिस्तान समर्थक बताने में जुट गये। उत्तर प्रदेश में भाजपा के उप मुख्य मंत्री केशव प्रसाद मौर्य का बयान कृपया सुनें। मोदी व उनके मंत्रीगण मौर्य के बारे में कुछ कहना चाहेंगे? पुलवामा आतंकी हमला हमारे लिए, सभी देशवासियों और विशेष तौर पर उसमें शहीद हुए बहादुरों के परिवारों के लिए तो दुखद दुर्घटना थी। जो उसे दुखद दुर्घटना ना मानें तो यह उनका विवेक है।”

मुकदमा दर्ज करने की दी चुनौती

इसके साथ ही दिग्विजय सिंह ने खुली चुनौती देते हुए लिखा है कि आप मुझे पाकिस्तान समर्थक और देशद्रोही मानते हैं तो मुझ पर मुकदमा दायर करें। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, ‘‘मोदी जी आपने व आपके मंत्रीगणों ने मुझ पर अनेक आरोप लगाए हैं आपके अनेक भाजपा नेता मुझ पर देशद्रोह का मुकदमा दायर करना चाहते हैं। मेरे जिस ट्वीट पर आप व आपके मंत्रीगण मुझे पाकिस्तान समर्थक मानते हैं, देशद्रोही मानते हैं, वह मैंने दिल्ली से किया था, जहां की पुलिस केंद्र सरकार के अन्तर्गत आती है। अगर आप में साहस है तो मेरे ऊपर मुकदमा दायर करें।” प्रधानमंत्री मोदी पर साधा निशाना एक अन्य ट्वीट करते हुए दिग्विजय सिंह ने प्रधाानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा, ‘‘आज तक पीएम मोदी ने पुलवामा के आतंकी हमले में खुफिया विफलता के बारे में क्या कार्यवाही की, कौन उसके लिए ज़िम्मेदार है देश को अवगत नहीं कराया। क्या इस विषय पर मोदी जी किसी को ज़िम्मेदार ठहराते हैं या नहीं? क्या एनएसए, आईबी प्रमुख, और रॉ प्रमुख से आपने स्पष्टीकरण मांगा?’

गौरतलब है कि एयर स्ट्राइक के बाद से ही देश में इसको लेकर राजनीति गरमाई हुई है। कई कांग्रेस नेता सबूत की मांग कर चुके है। कुछ दिन पहले दिग्विजय सिंह ने भी कहा था कि यदि कोई सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांग रहा है तो भारत सरकार को सबूत देकर उसका मुंह बंद कर देना चाहिए। उनके इस बयान पर भाजपा ने कड़ी आपत्ति जताई थी।

Related posts