पीएम मोदी की योजना के तहत बने शौचालय ने बुजुर्ग को पहुंचा दिया अस्पताल

मुरादाबाद। प्रधानमंत्री मोदी द्वारा चलाए जा रहे स्वच्छ भारत मिशन की पोल खुल गई है। उत्तर प्रदेश के जनपद मुरादाबाद में इस मिशन को लेकर पलीता लगाया जा रहा है। दरअसल इस स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के तहत बने शौचालय निर्माण में घटिया सामग्री लगाकर लोगों की जान से खिलवाड़ किया गया है। इस योजना के तहत बनाए गए एक शौचालय की छत अचानक गिर जाने से उसके मलबे में दबकर एक बुजुर्ग घायल हो गया। इस मामले में डीपीआरओ को मिली शिकायत के आधार पर ब्लॉक स्तर से जांच शुरू कर दी गई है।

मिली जानकारी के अनुसार, मामला मुरादाबाद के विकास खंड मूंढापांडे की ग्राम पंचायत महेशपुर भीला का है। बीते मंगलवार की सुबह जीवन सिंह ग्राम प्रधान द्वारा बनवाये गए शौचालय में डरते हुए शौच करने गए। जैसे ही वह बैठे तो घटिया समाग्री से बना शौचालय की छत भरभराकर उनके ऊपर गिर पड़ी। परिजनों ने उन्हें मलबे से बाहर निकाला और जिला अस्तपाल ले गए। यहां उनका उपचार किया।

मानक के अनुरूप नहीं हैं शौचालय
ग्रामीणों का आरोप है कि ग्राम प्रधान द्वारा बनाये गए शौचालय मानक के अनुरूप नहीं बने हैं। एक शौचालय बनाने में प्रधान से सिर्फ एक बोरी सीमेंट का इस्तेमाल किया है। गांव वालों का साफ कहना है कि अस्पताल जाने से तो अच्छा है कि वह खुले में ही शौच करने जाएं। जीवन सिंह के परिवार वालों ने ग्राम प्रधान के खिलाफ थाना मूंढा पांडे में प्रार्थना पत्र देकर शौचालय में घटिया सामग्री लगाने पर कार्रवाई की मांग की है।

घटिया शौचालय निर्माण
ग्रामीणों ने शौचालय में घटिया सामग्री लगाने पर प्रधान के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। बता दें, अधिकारियों ने जिले को ओडीएफ घोषित किया था, लेकिन इस घटना के बाद लोग शौचालय जाने से डर रहे हैं।

Related posts