पटवारियों को रिश्वतखोर कहकर फंसे जीतू, पटवारी संघ ने मांगा इस्तीफा

शहडोल/बड़वानी। उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी पटवारियों के खिलाफ अजीबो गरीब बयान देकर कंट्रोवर्सी में घिर गए हैं। दरअसल जीतू पटवारी ने कहा था कि सौ फीसदी पटवारी रिश्वत खाते हैं…उनके इस बयान से पटवारियों को ठेस पहुंची है। इसी नाराजगी के चलते पटवारी संघ ने जीतू पटवारी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। बड़वानी जिले में पटवारी संघ ने मंत्री के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए उनके इस्तीफे की बात कह डाली। संघ का कहना है कि मंत्री सार्वजनिक रूप से माफी मांगे…अगर तीन दिन में उनकी मांगें नहीं मानी गई तो वो प्रदेश स्तर पर मंत्री पटवारी के खिलाफ आंदोलन करेंगे। इस दौरान पटवारियों ने एसडीएम को मुख्यमंत्री कमलनाथ के नाम ज्ञापन भी सौंपा।

बड़वानी के बाद शहडोल पटवारियों के निशाने पर भी जीतू पटवारी आ गए। वे भी मंत्री से माफी मांगने की मांग कर रहे हैं। पटवारियों ने मंत्री के बयान का विरोध किया और कलेक्टर के नाम एक ज्ञापन सौंपा। साथ ही यह भी चेतावनी दी है कि अगर उनकी मांगें पूरी नहीं हुई तो वो हड़ताल पर चले जाएंगे। पटवारियों के हड़ताल पर चले जाने से निश्चित तौर पर सरकारी कामकाज में बाधा आएगी।

बता दें कि राऊ विधानसभा के रंगवासा में आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जीतू पटवारी ने कहा था कि ‘कलेक्टर साहब, आपके सौ फीसदी पटवारी रिश्वत लेते हैं। इन पर आप लगाम लगाइये। मेरे नाम में भी पटवारी है, इसलिए मेरा भी नाम बदनाम होता है। इस दौरान कलेक्टर भी मौजूद थे।

Related posts