पं. नेहरू पर विवाद: सज्जन सिंह वर्मा ने साध्वी प्रज्ञा को सुनाई खरी खोटी

देवास। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पं. जवाहर लाल नेहरू को क्रिमिनल बताया था। उसके बाद भोपाल सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने भी पं. नेहरु को लेकर विवादित टिप्पणी की थी। उन्होंने नेहरू को अपराधी कह दिया था। जिसके बाद से प्रदेश की राजनीति गर्मा गई थी। इस बयान पर कांग्रेस लगतार साध्वी पर हमले बोल रही है। इसी कड़ी में सज्जन सिंह वर्मा ने शिवराज और साध्वी प्रज्ञा पर हमला बोलते हुए कहा है कि ‘शिवराज सिंह चौहान और प्रज्ञा ठाकुर खुद इस प्रदेश के बड़े अपराधी है। शिवराज सिंह ने उज्जैन के डॉक्टर सम्भरवाल जो शिक्षा का दान करते थे, उन्हें शिवराज सिंह के साथियो ने मौत के घाट उतार दिया। CM के पद पर रहते हुए शिवराज सिंह चौहान उन अपराधियों से हॉस्पिटल में मिलने गए। वहीं साध्वी प्रज्ञा पर भी देवास के सुनील जोशी की हत्या का मामला दर्ज है। इसलिए ये दोनों पहले अपने गिरेबान में झांक लें। फिर किसी के बारे में कुछ बोलें।

सज्जन सिंह ने पंडित नेहरु की तारीफ करते हुए कहा कि नेहरू जी ने तो अपने जीवन के सारे बसन्त अंग्रेजों की जेल में बिताए हैं। स्वतंत्रता संग्राम की लड़ाई में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया। उन्होंने आगे कहा कि जिस नेहरू ने इस नए आजाद भारत की नींव रखी उसको अपराधी कहना, ये छोटी मानसिकता का प्रतीक है। ऐसे लोगों के विचारों से कभी देश नहीं बनता है। साथ ही इसे निम्न कोटी के विचार और निम्न कोटि के लोग बताते हुए कहा – ये और निचे जाते जायेगे, ये ऊपर नहीं उठ पायेंगे।

बता दें कि भोपाल में एक प्रेस वार्ता में शिवराज के नेहरू को अपराधी कहे जाने वाले बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कहा कि ‘हमारे भारत को जो भी पीड़ा पहुंचाएगा, हमारे भारत को जो भी खंडित करने का प्रयास करेगा, वह निश्चित रूप से अपराधी होगा, इसमें कोई शक नहीं।’

Related posts