न्यूजीलैंड: जुमे की नमाज के वक्त दो मस्जिदों पर धुआंधार फायरिंग, 40 की मौत

Image result for न्यूजीलैंड: दो मस्जिदों पर फायरिंग, 40 की मौतवेलिंगटन। न्यूजीलैंड में शुक्रवार को हुए भीषण आतंकी हमले में अब तक 40 लोगों के मारे जाने की पुष्टि की गई है। जानकारी के अनुसार, यहां क्राइस्टचर्च में दोपहर की नमाज के बाद दो मस्जिदों (अल-नूर और लिनवुड) में कुछ हथियारबंद लोगों ने अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी। घटना में करीब 20 से अधिक लोग घायल भी बताये जा रहे हैं।

न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा आर्डर्न ने इसे आतंकी हमला करार दिया है। उन्होंने घटना में मारे गए 40 लोगों की पुष्टि करते हुए कहा कि आज का दिन देश के इतिहास के लिए ‘काला दिन’ है। वहीं घटना को लेकर पुलिस ने बताया कि, फिलहाल स्थिति को संभालने में लगे हुए हैं, अब भी खतरा बना हुआ है।

पुलिस के अनुसार, हमलावर सक्रिय है और पुलिस उसकी तलाश कर रही है। ताजा जानकारी के अनुसार, मामले में एक महिला समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। जबकि पुलिस ने मस्जिद के पास से एक कार से कई आईईडी को डिफ्यूज किया। जानकारी के अनुसार यहां बांग्लादेश की क्रिकेट टीम भी नमाज़ पढ़ने पहुंची थी। खिलाड़ियों को भागकर मैदान वापस मैदान पर पहुंचना पड़ा। न्यूजीलैंड और बांग्लादेश के बीच तीसरा टेस्ट रद्द कर दिया गया। न्यूजीलैंड पुलिस ने इस हमलावर को हिरासत में ले लिया है।

मगर सबसे खास बात ये कि इस 28 साल के ऑस्ट्रेलियाई युवक ने इन दो मस्जिदों पर हमला करने से पहले 74 पेज का एक मेनिफेस्टो अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर किया था।हालांकि न्यूजीलैंड पुलिस ने इस युवक का ट्विटर हैंडल सस्पेंड कर दिया है, मगर ये मेनिफेस्टो मीडिया में मौजूद है। इसमें इस युवक ने अपने हमले के पीछे कई वजहें बताई हैं। एक नजर डालिए इन 11 वजहों पर जिसे इस मेनिफेस्टो में शामिल किया है।

Related posts