नकुलनाथ का मोदी सरकार पर कटाक्ष, चुनाव में ही भाजपा को याद आते हैं ‘राम’

छिन्‍दवाड़ा। देश में जब—जब चुनाव नजदीक आता है तो भाजपा एवं संघ को अयोध्या में राम मंदिर की याद आ जाती है। मोदी सरकार को सत्ता में आए हुए पौने पांच साल हो गए। लेकिन उन्हें इतनी सालों में गरीब, आदिवासी, किसान और नौजवान की याद नहीं आई, लेकिन चुनाव आते ही उन्‍हें सब याद आने लगते हैं। अब उन्‍हें फिर से राम मंदिर की याद आने लगी है और यह याद इसलिये भी आती है, ताकि वे मूल समस्या से जनता का ध्यान मोड़ सके। अर्थात जनता को फिर से गुमराह कर सके। यह कहना है कांग्रेस के युवा नेता और प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के बेटे नकुलनाथ का। नकुलनाथ ने यह बात रविवार को पातालकोट के आदिवासी बाहुल्य अंचल चिमटीपुर (छिंदी) व तामिया में आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन में कही।

उन्होंने कहा, मैं आपको आगाह करने आया कि हमें भाजपा की इस चाल से बचना होगा। नकुल ने कहा कि आपके प्यार विश्‍वास व ताकत से आपने कांग्रेस की सातों सीटों पर परचम लहराया है। लोकसभा चुनाव में भी सभी कार्यकर्ताओं को इसी कर्मठता का परिचय देना होगा। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस का प्रत्येक कार्यकर्ता घर-घर जाकर अब यह संदेश दें कि हर नौजवान के हाथों को काम और किसानों की उपज को उचित दाम दिलाना ही कांग्रेस का प्रमुख लक्ष्य है। नकुल ने मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा पातालकोट में किये गये विकास कार्यों की जानकारी देते हुये कहा कि एक दौर था जब पातालकोट में बिजली उपलब्ध कराने पर ग्रामीणों ने नाराजगी व्यक्त करते हुये कहा था कि हमें बिजली नहीं चाहिये। लेकिन आज जब टावर की मांग की तो पता चला कि बिजली का नहीं उन्‍हें मोबाईल का टावर चाहिये। उन्‍होंने कार्यकर्ताओ का हौसला बढाते हुये कहा कि कमलनाथ ने किसानों की कर्ज माफी के साथ अपने वचनों को पूरा करना प्रारंभ कर दिया है। वे निश्चित समय सीमा में सभी वचनों को पूरा करेंगे।

इस दौरान नकुल जिले वासियों से कहा कि आपने अपने लाडले नेता कमलनाथ को पिछले 38 वषों में भरपूर स्नेह, आशीर्वाद और शक्ति देकर उनके हाथों को मजबूत बनाया है। अब वे भी चाहते है कि वहीं प्यार और विश्‍वास मेरे प्रति भी बने, ताकि मैं शेष कार्यों की पूर्ति के लिये सक्षम बन सकूं। इस दौरान नकुल ने शिक्षक कांग्रेस के पदाधिकारियों एवं सदस्‍यों से परिचयात्मक भेंट की तथा उनकी मांगो और समस्याओं को सुना। इस अवसर पर जिला कांग्रेस अध्यक्ष गंगाप्रसाद तिवारी, पूर्व मंत्री दीपक सक्सेना सहित कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Related posts