दहेज के लिए हैवान बने ससुराल वाले, बेटे से सामने महिला को आग लगाई

बैतूल। दहेज प्रथा एक सामाजिक बीमारी बनती जा रही है। पिछले कुछ वक्त से मध्यप्रदेश में सबसे अधिक मुकदमे दहेज प्रताड़ना के सामने आए हैं। पुलिस प्रशासन महिलाओं को उनके ससुराल वालों से सुरक्षित नहीं करा पा रही है। बेटी की खुशी के लिए उसके मायके वाले तरह-तरह की मांगें पूरी करते हुए थक जाते हैं, पर मांगे खत्म नहीं होतीं, और एक दिन वह भी आता है, जब कोई मांग पूरी न होने पर, बेटी को प्रताड़ित किया जाता है या उसकी बलि चढ़ा दी जाती है। ऐसा ही इंसानियत को तार तार कर देने वाला मामला

जिले के ससुन्दरा गांव में सामने आया है। यहां एक महिला पर उसकी सास और ननद ने केरोसिन डालकर आग लगा दी। आग में महिला 75 फीसदी से ज्यादा जल गई है। महिला का 5 साल का एक बच्चा है। हैरानी की बात यह है कि मासूम की आंखों के सामने उसकी मां को जिंदा जला दिया गया।

घटना के संबंध में पूछे जाने पर मासूम बच्चे ने बताया कि उसकी बुआ और दादी ने पहले उसकी मां को बुरी तरह से पीटा और फिर केरोसिन डालकर आग लगा दिया। महिला के चीखने पर उसका पति वहां पहुंचा और आग बुझाने का प्रयास किया, जिसमें उसके दोनों हाथ बुरी तरह झुलस गए। इधर, मामले में पीड़ित महिला के परिजनों की तरफ से दहेज प्रताड़ना की बात भी सामने आ रही है। फिलहाल, महिला की हालत बेहद नाजुक है और उसे भोपाल के हमीदिया हॉस्पिटल रेफर किया गया है।

वहीं घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस ने जांच तेज कर दी है। पुलिस ने जल्द ही मामले में खुलासा कर आरोपियों की गिरफ्तारी की बात कही है। पुलिस की मानें तो अब तक इस मामले में अलग-अलग बयान आने से कोई एफआईआर दर्ज नहीं हो सकी है। बैतूल एडिशनल एसपी रामस्नेही मिश्र ने कहा कि मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच शुरू कर दी गई है। यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Related posts