दमोह: नशे में था बाप, रेलवे स्टेशन से 3 वर्षीय बच्ची को उठा किया बलात्कार।

दमोह: देर रात मंगलवार को अपने पिता के साथ सो रही तीन वर्षीय लड़की को दमोह रेलवे स्टेशन से अगवाह करके बलात्कार किया गया।
सूत्रों का कहना है कि जब 3 वर्षीय बेटी के पिता ने मध्यरात्रि में अपनी लड़की को लापता पाया, तब पिता ने तुरंत रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) को सूचित करते हुए अपनी 3 वर्षीय बेटी के अचानक लापता हो जाने की बात बताई।

पुलिस ने बताया कि “जब बच्ची के पिता रात्रि 11 बजे हमारे पास आए और अपनी 3 वर्षीय बेटी के लापता होने की बात बताई तो हमने उन्हें आगे की कार्रवाई के लिए उनको जीआरपी पुलिस के पास भेजा।”
जीआरपी ने कथित तौर पर उसे खोजने की कोशिश की।

एक स्थानीय निवासी ने अपनी यात्रा के दौरान 3 वर्षीय बच्ची को खून से लतपत देख तुरंत पुलिस को सूचित किया। बच्ची को जिला अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने निजी तौर पर चोटों का पता लगाया। एक करीबी परीक्षा के बाद उन्हें यौन हमले का सबूत मिला और चिकित्सको द्वारा बच्ची के साथ हुए दुष्कर्म (बलात्कार) की पुष्टि की गयी। आगे के इलाज के लिए बालिका को जबलपुर भेजा गया था।
दमोह एसपी विवेक अग्रवाल ने मारने की जानकारी देते हुए बताया कि “लड़की अपने पिता के साथ स्टेशन के बाहर सो रही थी, पिता जाहिर तौर पर नशे में था। वह बच्ची के गुम हो जाने पर पहले आरपीएफ गया और फिर शिकायत दर्ज कराने के लिए जीआरपी में गए। कार्रवाई करने में पुलिस की तरफ से किसी भी प्रकार का विलंब नहीं हुआ और तत्काल कार्यवाही की गई”

जांचकर्ता संदिग्ध पर सुराग के लिए स्टेशन परिसर के आस-पास सीसीटीवी के फुटेज स्कैन कर रहे थे। हमारे पास कुछ लीड हैं जिनका खुलासा नहीं किया जा सकता है। अधिकारी ने बताया कि, आरोपी जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा। 2016 में भोपाल से भी इसी तरह की मामला दर्ज की गई थी, जहां एक तीन वर्षीय लड़की का अपहरण कर लिया गया था, इस दौरान बच्ची की तक शिनाख्त की गई जब ऐशबाग इलाके की झाड़ियों खून बहता पाया गया।

Related posts