झाबुआ सीट पर कांग्रेस में घमासान- भूरिया पिता-पुत्र के साथ साथ मेढ़ा भी उतरे मैदान में

झाबुआ/भोपाल: प्रदेश की झाबुआ विधानसभा सीट पर 21 अक्टूबर को चुनाव होगा। आयोग के ऐलान के साथ प्रदेश कांग्रेस में सियासी हलचल तेज हो गई है। सीएम कमलनाथ से लेकर सरकार के कई मंत्री झाबुआ में पंचायत लगाकर कांग्रेस के पक्ष में माहौल बनाने की कोशिश कर चुके हैं। इस सीट पर लंबे समय तक कांतिलाल भूरिया का दबदबा रहा है। झाबुआ विधानसभा सीट पर 2018 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी के जीएस डामोर ने कब्जा जमाया था। 2019 के लोकसभा चुनाव में झाबुआ-रतलाम सीट पर कांतिलाल भूरिया को हरकार संसद पहुंचे जीएस डामोर के सीट छोड़ने पर उपचुनाव हो रहा है हालांकि कांग्रेस में इस सीट को लेकर खासा घमासान है। अब भूरिया पिता-पुत्र के अलावा जेवियर मेढ़ा भी झाबुआ सीट के लिए युद्ध स्थल पर उतर आए हैं।

Related posts