जिस मकान के लिए आकाश ने अधिकारी पर चलाय थे बल्ले, उसे किया गया ज़मीदोज़

इंदौर। 26 जून को बीजेपी के नेता कैलाश विजयवर्गीय के बेटे विधायक आकाश विजयवर्गीय की गुंडागर्दी सामने आई थी। आकाश ने जर्जर इमारत को गिराने आए नगर निगम के अधिकारी को क्रिकेट के बल्ले से पीटा था…पुलिस ने इस मामले में आकाश को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। जर्जर इमारत की हालत देखते हुए उसे आज शुक्रवार को गिराने का आदेश दिया था। आज उस मकान को भारी पुलिस प्रशासन की मौजूदगी में गिरा दिया गया है मकान ढहाने के लिए पुलिस प्रशासन और नगर निगम ने भारी बंदोबस्त किए हैं ताकि फिर से कोई बवाल ना किया जाए।

हाईकोर्ट से आर्डर मिलने के बाद शुक्रवार को यहां पर तीन स्थानों की पुलिस को ड्यूटी पर लगाया गया है ताकि किसी भी काम में कोई भी बाधा ना आए औऱ कोई हंगामा ना कर सके। वहीं पुलिस प्रशासन के अलावा नगर निगम की रिमूवल टीम भी यहां मौजूद है। प्रशासन के द्वारा कार्रवाई करने से पहले ही इस पूरे क्षेत्र को चारों तरफ से ब्लॉक कर दिया गया है ताकि किसी भी प्रकार का हंगामा न हो सके।

बता दें कि पिछले महीने नगर निगम का अमला जब यह मकान गिराने यहां पहुंचा था तो बीजेपी विधायक आकाश विजयवर्गीय ने निगम अधिकारी को बैट से पीटा था। जिसके बाद उन्हे गिरफ्तार भी कर लिया गया।

Related posts