जिन मेढक-मेढकी की इंद्र देव को खुश करने के लिए कराई थी शादी अब उनका करवाया तलाक

मध्यप्रदेश में जादू टोना से लेकर अंधविश्वास के किस्से प्रचलित हैं। अभी हाल ही कि बात थी कि जब जून जुलाई के महीना गर्मी से भयंकर तप रहा था और कही से भी इंसान को राहत नही मिल रही थी तो ऊपर वाले से बारिश की मांग करने के लिए दो मेढकों की शादी करवा दी। शादी भी हुई बारिश भी हुई। और बारीज़ह इतनी भयंकर हुई कि प्रदेश में बाढ़ आ गयी, नाले-नदियां उफान पर आ गए, लोग पानी मे बहकर मरने लगे। ऐसी आफत वाली बारिश को रोकने के लिए भोपाल के रहवासियों के पास उसका भी उपाय हैं। जिन मेढकों की शादी करवाई थी अब उनका तलाक करवा दो। जी हां, सही पढा आपने मेढक-मेढकी की तलाक! भोपाल में जिन लोगों ने मेंढक-मेंढकी की शादी कराई थी, उन्हीं ने मेंढक-मेंढकी का तलाक़ करा दिया। इसके लिए बकायादा पूजा की गई। उसमें प्रतीक के तौर पर मिट्टी के मेंढक-मेंढकी रखे गए और दोनों को पूरे विधि-विधान से अलग किया गया। बाद में मिट्टी के ये मेढ़क-मेढ़की पानी में विसर्जित कर दिए गए। अब देखना यह हैं कि इस तलाक की खबर इंद्र देवता तक पहुँचती हैं या नहीं और वे बारिश को रोकते हैं कि नही।

Related posts

Leave a Comment