गोडसे ने बापू के शरीर की हत्या की और साध्वी ने उनकी आत्मा की: कैलाश सत्यार्थी

भोपाल। भोपाल लोकसभा सीट से बीजेपी प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ने रोड शो के दौरान एक पत्रकार के सवाल के जवाब में महात्मा गांधी के हत्यारे नाथुराम गोडसे को देशभक्त बताया था। इस बयान से न केवल भाजपा की किरकिरी हो रही है बल्कि साध्वी की भी मध्यप्रदेश सहित पूरे देश में उनकी आलोचना हो रही है। नोबेल शांति पुरस्कार विजेता और कैलाश सत्यार्थी चिल्ड्रेंस फाउंडेशन के संस्थापक कैलाश सत्यार्थी ने भी साध्वी के इस बयान की निंदा की है। उन्होंने ट्वीट कर साध्वी प्रज्ञा पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि, नाथूराम गोडसे ने गांधी के शरीर की हत्या की थी, लेकिन साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर जैसे लोग उनकी आत्मा की हत्या के साथ, अहिंसा, शांति, सहिष्णुता और भारत की आत्मा की हत्या कर रहे हैं। गांधी हर सत्ता और राजनीति से ऊपर हैं। बीजेपी नेतृत्व छोटे से फायदे का मोह छोड़कर उन्हें तत्काल पार्टी से निकालकर राजधर्म निभाए।

गौरतलब हो कि भोपाल लोकसभा सीट से खड़ी बीजेपी प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने वाले बयान पर विवाद खड़ा हो गया था। गुरुवार को साध्वी प्रज्ञा ने नाथूराम गोडसे को देशभक्‍त बताया था। प्रज्ञा ने कहा था, ‘नाथूराम गोडसे देशभक्‍त थे, देशभक्‍त हैं और देशभक्‍त रहेंगे।’ हालांकि देर रात अपने इस बयान पर माफी मांग ली। लेकिन उनके बयान से सियासी बवाल मचा हुआ है। विरोध को देखते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने भी उन्हें कभी माफ न करने की बात कही थी।

Related posts