कमलनाथ सरकार से नाराज निर्दलीय ‘शेरा’, लगाए उपेक्षा के आरोप

भोपाल। मध्य प्रदेश में कांग्रेस की कमलनाथ के नेतृत्व वाली सरकार को समर्थन देने वाले निर्दलीय विधायक ने एक बार फिर कमलनाथ सरकार पर हमला बोला है। निर्दलीय विधायक ने अपनी उपेक्षा का आरोप लगाया है। उन्होंने बुधवार को विधानसभा सत्र शुरू होने से पहले मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि उन्होंने सरकार को समर्थन दिया है। इसके बावजूद न तो उन्हें कांग्रेस विधायक दल की बैठक में बुलाया गया और न ही पार्टी के अन्य कार्यक्रमों में उन्हें याद किया जाता है। उनके क्षेत्र में होने वाले सरकारी कार्यक्रमों के बैनर-पोस्टरों में भी उनका फोटो तक नहीं लगाया जाता। इसके लिए वे मुख्यमंत्री से मिलना चाहते हैं, लेकिन कांग्रेस नेता उनसे मिलने ही नहीं दे रहे हैं।

दरअसल, बुरहानपुर जिले के वरिष्ठ कांग्रेस नेता ठाकुर सुरेन्द्र सिंह शेरा ने विधानसभा चुनावों में पार्टी से टिकट नहीं मिलने पर बुरहानपुर से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ा और उन्होंने भाजपा की दिग्गज प्रत्याशी और पूर्व मंत्री अर्चना चिटनिस को हराया। चुनाव में कांग्रेस को भी पूर्ण बहुमत नहीं मिला, लेकिन उसने बसपा-सपा और निर्दलीय विधायकों के समर्थन से सरकार बना ली। ठाकुर सुरेन्द्र सिंह ने मंत्री बनने की आस में कांग्रेस को समर्थन दिया था, लेकिन उन्हें कैबिनेट में जगह नहीं दी गई, जिससे वे पार्टी से नाराज चल रहे हैं। बुधवार को जब वे विधानसभा पहुंचे, तो उन्होंने कांग्रेस सरकार पर अपनी उपेक्षा का आरोप लगाया।

उन्होंने विधानसभा सत्र शुरू होने से पहले मीडिया से चर्चा में कहा कि कांग्रेस में कई ऐसे नेता है, जो उन्हें मुख्यमंत्री कमलनाथ से मिलने नहीं दे रहे हैं। मैंने वास्तविकता से रूबरू कराने के लिए सीएम से कई बार समय मांगा, लेकिन मुलाकात के लिए समय नहीं मिला। मुझे कांग्रेस विधायक दल की बैठक में नहीं बुलाया गया। मेरे विधानसभा क्षेत्र में सरकारी कार्यक्रमों में लगने वाले बैनर-पोस्टर से मेरा चेहरा ही गायब कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि इसके लिए मैं किससे शिकायत करूं, दो महीने से राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से मिलने का वक्त मांग रहा हूं, लेकिन अभी तक उनसे मुलाकात का भी समय नहीं मिला है।

Related posts