उधारी नहींं चुकाई तोे गांंव वालोेंं नेे महिला कोेे खंंभेे सेे बांधकर पीटा

बैंगलूरू। देश में लगातार महिलाओं पर अत्याचार और जुल्म के नए नए मामले सामने आ रहे हैं। इन घटनाओं से पता चलता है कि दबंगों को कानून का कोई डर नहीं है। रौंगटे खड़े कर देने वाला एक वाक्या कर्नाटक की राजधानी बैंगलुुरू सेे सामने आया है। जहां एक 36 साल की महिला की कथित तौर पर एक खंभे से बांधकर गांववालों ने पिटाई कर दी। यह घटना इंसानियत को शर्मसार कर देेनेे वाली घटना है जहांं लोन न चुकाने की वजह से एक महिला केे साथ बदसलूूकी की गई सही मायनों में इंसान की आत्मा मर चुकी है। यह घटना गुरुवार को रामनगर जिले के तवारेकेरे के कोडीगेहल्ली में घटी। उसने कथित तौर पर 12 लाख रुपये की धोखाधड़ी की थी। पीड़िता का नाम राजम्मा है। तवारेकेरे पुलिस ने राजम्मा को बचाया और आठ गांवावालों को गिरफ्तार किया है। वह चमराजनगर जिले के कोल्लेगल की रहने वाली है।

मिली जनकारी के अनुुसार, राजम्मा बहुत साल पहले अपनी बेटी के साथ कोडीगेहल्ली में आकर बस गई थीं। उसने कथित तौर पर कुछ गांववालों से एक होटल शुरू करने के लिए 12 लाख रुपये उधार लिए हैं। लेकिन उसे भारी नुकसान हुआ और वह पैसा वापस नहीं कर पाई।

जब गांववालों ने उसे पैसा वापस करने के लिए कहा तो उसने घर खाली कर दिया और कुछ महीने पहले कोडीगेहल्ली से भाग गई। एक पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘कुछ देनदारों को पता चला कि राजम्मा धर्मस्थल में है और बुधवार को उसे पकड़ लिया गया। वह उसे गुरुवार को कोडीगेहल्ली लेकर आए। जिन्होंने उसे पैसे दिए थे उन लोगों के साथ मिलकर गांववालों ने उसे खंभे से बांध दिया और उसकी पिटाई कर दी।’

सूचना पर पहुंंची पुलिस ने 8 लोेगों कोे गिरफ्तार कर लिया है। ‘दूसरे गांववालों को पकड़ने की कोशिशें की जा रही है।

Related posts