आयरलैंड में क्यों महिलाए पेंटिया लेकर उतरी हैं सड़को पर? ट्विटर पर भी बन गया ट्रेंड

लंदन
आयरलैंड में रेप के एक मामले ने आंदोलन को जन्म दे दिया है। पीड़िता के फीतों वाले अंडरवियर का जिक्र करते हुए संबंध बनाने को लेकर उसकी सहमति की दलील ने विवाद पैदा कर दिया है। बचाव पक्ष के वकील की इस दलील को आयरलैंड एवं उसके बाहर भी लोगों में खासा गुस्सा देखा जा रहा है। अदालत में बहस के दौरान बचाव पक्ष के वकील ने कहा था कि जूरी को 17 साल की पीड़िता के अंडरवियर का भी ध्यान देना चाहिए, जो उसने मौके पर पहन रखा था।

पीड़िता के वकील ने कहा था कि महिला का गली में 27 वर्षीय युवक ने रेप किया गया। एक रिपोर्ट के मुताबिक वकील ने कहा था, ‘क्या इन सबूतों को खारिज किया जा सकता है कि पीड़िता आरोपी के प्रति आकर्षित थी और किसी से मिलने या फिर साथ होने के लिए तैयार थी।’ वकील ने कहा था, ‘आपको यह देखना होगा कि उसने किस तरह की ड्रेस पहनी हुई थी और उसने एक थोंग (एक प्रकार का अंडरवियर) पहना हुआ था।’
अदालत ने इस मामले में आरोपी को बरी कर दिया था, जिसके बाद से आयरलैंड समेत तमाम देशों में सहमति और पीड़िता पर ही आरोप लगाने को लेकर बहस शुरू हो गई थी। सैकड़ों की संख्या में महिला और पुरुष पोस्टर और थोंग अंडरवियर हाथों में लेकर आयरलैंड के कई शहरों में प्रदर्शन करते दिखे। बुधवार को आयरलैंड के कई शहरों में यह प्रदर्शन तेज हो गया।

आयरलैंड की राजधानी डबलिन में महिला प्रदर्शनकारियों ने सिटी सेंटर पर विमन अंडरवियर लटकाकर प्रदर्शन किए। कॉर्क में प्रदर्शनकारी कोर्ट रूम में ही महिला अंडरवियर लेकर चले गए। आंदोलन को संबोधित करते हुए कॉर्क सेक्शुअल वॉइलेंस सेंटर की डायरेक्टर मैरी क्रिली ने कहा, ‘मेरा सवाल इस पर नहीं है कि बैरिस्टर ने क्या कहा। सवाल उस सिस्टम पर है, जो इस तरह की चीजों को अनुमति देता है।’

Related posts